पाकिस्तान के सबसे भारी व्यक्ति को इलाज के लिए दीवार तोड़कर निकाला बाहर

0

ज्यादा मोटा होना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। लेकिन एक व्यक्ति इतना मोटा (Most Heaviest Person In Pakistan ) है की उसे घर  से अस्पताल ले जाने के लिए घर के गेट का नहीं बल्कि दीवार  का सहारा लिया गया। उस व्यक्ति का वजन 330 किलोग्राम से अधिक है और सेना के जवानों की सहायता से घर की दीवार तोड़ उसे बाहर निकाला गया और अस्पताल में भर्ती करवाया गया। मामला पाकिस्तान के पंजाब प्रांत का है, जहां सादिकाबाद निवासी नूरुल हसन (55) अत्याधिक मोटापे से पीड़ित है। मंगलवार को बचाव सेवा ‘रेस्क्यू 1122’ के सदस्यों ने उसे उसके घर की दीवार तोड़ बाहर  निकाला क्योंकि वह इतना मोटा था कि घर के मेन गेट से निकल ही नहीं सकता था।

Video : गर्ल्स हॉस्टल में घुस कर युवक ने किया हस्तमैथुन

पाकिस्तानी सेनाध्यक्ष जनरल कमर जावेद बाजवा (Most Heaviest Person In Pakistan ) ने हसन को अस्पताल ले जाने और उनके उपचार के लिए विशेष व्यवस्था की है। हसन ने जावेद बाजवा से सोशल मीडिया पर मदद मांगी थी और उसके बाद बाजवा ने  विशेष इंतजाम कर उसे घर के बाहर निकाला। हसन के अत्यधिक वजन के कारण उन्हें चलने-फिरने में अधिक  दिक्क़ते आती थी। हसन का उपचार लाहौर के सैन्य अस्पताल में किया जाएगा साथ ही हसन की लेप्रोस्कोपिक सर्जरी भी की जाएगी।

Video : एंटी रोमियो स्क्वाड की महिला पुलिसकर्मियों की गुंडागर्दी वायरल

मीडिया रिपोर्ट में हसन को पाकिस्तान का वजन (Most Heaviest Person In Pakistan ) के हिसाब से सबसे भारी व्यक्ति करार दिया गया है हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि अभी तक नहीं की गई है। इससे पहले पाकिस्तान  में 2017 में 360 किलो वजन वाले एक व्यक्ति की लेप्रोस्कोपिक सर्जरी की गई थी और उसका वजन 200 किलो से नीचे आ गया था।पाकिस्तान एंडोक्राइन सोसायटी द्वारा पिछले साल जारी एक सर्वेक्षण रिपोर्ट के मुताबिक, 29 प्रतिशत पाकिस्तानी जनसंख्या अधिक वजन की शिकार है जिनमें से 51 प्रतिशत को मोटापे की श्रेणी में रखा गया है।

UN ने माना पत्रकार खशोगी की हत्या में सऊदी अरब का हाथ

Share.