भारतीयों को नहीं लेना होगा वीजा अब इस देश जाने के लिए

0

दुनिया के पांचवे सबसे बड़े देश ब्राजील(Brazil) के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो (Jair Bolsonaro)ने गुरुवार को कहा कि भारत के कारोबारियों को ब्राजील आने के लिए वीजा की जरूरत नहीं होगी। उन्होंने कहा कि चीन और भारत के लोगों के लिए वीजा  (Brazil Visa India) की जरूरतों को कम किए जाने का फैसला किया गया है। बता दें कि बोल्सोनारो वर्ष की शुरुआत में सत्ता में आए हैं। और उन्होंने कई विकसित देशों के लिए वीजा की जरूरतों में कमी की है हाल ही में वह चीन के दौरे पर थे और उन्होंने घोषणा की कि विकासशील देशों के लिए भी उनकी नीतियों में विस्तार किया जाएगा। ब्राजील साउथ अमेरिका (South America) और लैटिन अमेरिका का सबसे बड़ा देश है.

धनतेरस पर कमलनाथ के प्रदेश में मोदी सिक्कों की खनक

ब्राजील का वीजा तैयार होने में अभी तक 10 से 15 दिन का समय लगता था. वर्क वीजा 7 से 10 दिन में बनता था. बता दें कि कुछ दिन पहले ही ब्राजील ने अमेरिका, कनाडा, जापान और ऑस्ट्रेलिया के पर्यटकों और कारोबारियों को वीजा में छूट दी थी. लेकिन इन देशों में ब्राजील से आने वाले पर्यटकों को ऐसी छूट नहीं दी गई है (Brazil Visa India). ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो को अक्सर नस्लवादी, समलैंगिक विरोधी और महिला विरोधी टिप्पणियों के लिए जाना चाहता है.

देवर ने भाभी को 10 दिनों तक बनाया हवस का शिकार

ब्राजील की राजधानी ब्रासीलिया में 13-14 नवंबर को होने वाली ब्रिक्स समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो की मुलाकात होगी. इस समिट में पीएम मोदी और बोल्सोनारो कई अहम मुद्दों पर समझौता कर सकते हैं। ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो को कड़े फैसले लेने के लिए जाना जाता है. भ्रष्टाचार से मुक्ति दिलाने के वादों की वजह से उन्हें जीत मिली है. इस बार के चुनाव में उन्होंने काफी अंतर से जीत दर्ज कराई थी.

गोपाल कांडा के साथ पर बौखलाई भाजपा की साध्वी

-Mradul tripathi

Share.