हिंदू समुदाय पर हमले लगातार बढ़ रहे, फ़ैली दहशत  

0

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय पर हमले (Attack on Hindu community) लगातार बढ़ते जा रहे हैं | उनके साथ हिंसा की जा रही है | यहां सोमवार से शुरू हुआ हिंसा का दौर अब तक थमा नहीं है| लगातार हिन्दुओं को निशाना बनाया जा रहा है | प्रशासन आरोपियों को गिरफ्तार करने की बात लगातार कर रहा है पर बलवाई निरंतर हिन्दुओं पर हमले किए जा रहे हैं|

2008 के होटल हमले मामले में राज ठाकरे बरी

प्राप्त जानकारी के अनुसार, पशु चिकित्सक द्वारा कथित तौर पर धार्मिक ग्रंथ का पन्ना फाड़कर उसमें दवा लपेटने पर भड़की हिंसा बुधवार को भी जारी रही। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सिंध प्रांत में दंगाइयों ने हिंदुओं की दुकानों (Attack on Hindu community) में आग लगा दी है। आज यानी गुरुवार को भी उत्पात आक्रोशित दिख रहे हैं| वे लूटपाट भी कर रहे हैं, इससे हिन्दू दहशत में हैं|

दरअसल, पाकिस्तान में ईश निंदा के खिलाफ कड़े कानून के तहत हिंदू पशु चिकित्सक रमेश कुमार को सोमवार को गिरफ्तार किया गया था। बताया जाता है कि एक स्थानीय इमाम ने ईशनिंदा के खिलाफ पुलिस में शिकायत की थी। गौरतलब है कि पाकिस्तान में ईशनिंदा कानून के तहत इस्लाम की बेअदबी पर मौत की सजा (Attack on Hindu community) का प्रावधान है।

हम बता नहीं पाए जनता वोट क्यों दे : केजरीवाल

प्राप्त जानकारी के अनुसार, जब दंगाइयों ने हिंदुओं की दुकानों में आग (Attack on Hindu community) लगाना शुरू किया उसके बाद डॉक्टर को गिरफ्तार कर लिया गया। उग्र दंगाइयों ने सिंध प्रांत के मिरपुरखास जिले में सड़कों पर टायरों में आग लगा कर जाम लगा दिया। इस दौरान उन्होंने एक डॉक्टर के क्लिनिक, मेडिकल स्टोर और दो दुकानों में भी आग लगा दी। आगजनी के अलावा कुछ दुकानों के लूटे जाने की भी खबरें हैं।

इस दौरान हालात जब बेकाबू होने लगे तो भीड़ की हिंसा को काबू करने के लिए स्थानीय प्रशासन ने पैरामिलिटरी रेंजर्स को बुला लिया। पुलिस ने दंगाइयों के खिलाफ मामला भी दर्ज किया है। मिरपुरखास के उपायुक्त ने कहा है कि हिंसा के दौरान जिन लोगों की संपत्तियों को नुकसान (Attack on Hindu community) पहुंचा है, उन्हें सरकार मुआवजा देगी।

पीएम के शपथ ग्रहण समारोह में ममता बनर्जी नहीं होगी शामिल

मिरपुरखास के एसएसपी जावेद बलोच ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। हमने डॉक्टर को गिरफ्तार कर लिया है और इस मामले की जांच की जा रही है। जिन लोगों ने हिंदू समुदाय की संपत्तियों को नुकसान (Attack on Hindu community) पहुंचाया है, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। हमने कुछ संदिग्धों को हिरासत में लिया है।“

सिंध प्रांत और कराची में बड़ी संख्या में हिंदू रहते हैं। सरकारी अनुमान के अनुसार, पाकिस्तान में 75 लाख हिंदू रहते हैं, वहीं काउंसिल का दावा है कि पाकिस्तान में 90 लाख से ज्यादा हिंदू आबादी है। इससे पहले पाकिस्तान हिंदू काउंसिल ने शिकायत की थी कि ईश निंदा के नाम पर हिंदू समुदाय (Attack on Hindu community) को निशाना बनाया जा रहा है। उनसे जाति दुश्मनी निकाली जा रही है। मुस्लिम बहुल पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों में हिंदुओं की सबसे बड़ी आबादी है।

Share.