website counter widget

जेल में दंगा, 32 कैदियों की मौत

0

एक जेल में दंगा भड़कने के बाद वहां खूनी खेल खेया गया। इसके बाद 32 कैदियों की मौत (32 Prison Dead In Tajikistan Jail) हो गई। जेल में यह खूनी खेल भारत में नहीं बल्कि तजाकिस्तान (Tajikistan) में खेला गया। तजाकिस्तान से अक्सर जेल में बंदियों के बीच संघर्ष और उनकी मौत ही खबर आती रहती है। जानकारी के अनुसार, मृतकों में इस्लामिक स्टेट समूह के 24 सदस्य और 3 गार्ड शामिल हैं। न्याय मंत्रालय ने इस संबंध में बयान जारी किया गया।

बयान में कहा गया कि राजधानी दुशांबे के पास स्थित जेल में रविवार शाम दंगा भड़क गया। आईएसआईएस का सीरिया और इराक के कुछ हिस्सों पर कब्जा है। इससे पहले भी इस संगठन ने नवंबर में तजाकिस्तान के ही एक अन्य जेल में कैदियों पर हमले की जिम्मेदारी ली थी। पिछले साल जुलाई के महीने में भी तजाकिस्तान की जेल में हिंसक संघर्ष हुआ था।

कमलनाथ सरकार पर संकट ? 

हादसे (32 Prison Dead In Tajikistan Jail) के बाद सभी घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया, जहाँ पर आतंकियों ने आग लगा दी। उन्होंने कई लोगों को बंधक बना लिया। इस घटना के बारे में मंत्रालय ने कहा कि सुरक्षा बलों ने जेल में व्यवस्था बहाल करने की लड़ाई में 24 आतंकवादियों को मार गिराया। जिस जेल में ये घटना हुई वहां 1500 कैदी थे। इस जेल से पहले भी कई बार दंगों की खबरे आ चुकी है। ऐसी ही घटना वेनेजुएला की एक जेल में भी हुई थी। 2018 में दंगे के दौरान आग लगने से 68 लोगों की मौत हो गई थी। इसके पहले जब वेनेजुएला में गन्दा भड़का था था तब पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी थी।

पाकिस्तान के लिए गरीबी में गीला आटा

50 लोगों की मौत

जहाँ अभी तजाकिस्तान में 30 कैदी मारे गए हैं वहीं 2016 में उत्तरी मैक्सिको की एक जेल में दंगे और आगजनी की घटना सामने आई थी। उस घटना में 50 लोगों की मौत हो गई थी। यह इलाका ड्रग तस्करों के बीच हिंसा के लिए जाना जाता रहा है। यह हिंसा कुख्यात जेटास ड्रग माफिया के गुट से जुड़े एक कैदी के जेल से फरार होने की कोशिशों के बाद हिंसा भड़की। उसके पहले वर्ष 2014 में हजारों कैदियों ने विद्रोह किया था। उस समय चार कैदियों की मौत हो गई थी।

मास्क पहनकर आए बंदूकधारियों ने कई लोगों की जान ली   

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.