श्रद्धालुओं से भरी बस 500 मीटर गहरी खाई में गिरी 14 की मौत, 19 घायल

0

काठमांडू: नेपाल (Nepal) के सिंधुपालचौक जिले में रविवार तड़के एक बस 500 मीटर गहरी खाई में गिर गई (Accident In Sindhupalchok Nepal)। यह बस कालिनचौक मंदिर से भक्तपुर लौट रही थी। हादसा 15 दिसंबर, 2019 को सुबह लगभग 8.30 बजे के आस-पास हुआ। जानकारी के अनुसार 40 यात्रियों से भरी बस अनियंत्रित होकर 500 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। इस दर्दनाक हादसे में 14 लोग अपनी जान गवां बैठे जबकि 19 अन्य लोग घायल हो गए हैं। घटना की सूचना मिलते ही नेपाली सेना, सश्स्त्र पुलिस बल और जनपद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बचाव कार्य शुरू कर दिया है। यहां रहने वाले ग्रामीण भी पुलिस के साथ बचाव कार्य में जुट गए हैं। बता दें कि घायलों को घड़ी और धूलिखेल के अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है। बताया जा रहा है कि कुछ घायलों की हालत नाजुक बनी हुई है।

Bangladesh Train Accident : दो ट्रेनों में जोरदार टक्कर 15 की मौत, कई घायल

(Accident In Sindhupalchok Nepal) पुलिस के अनुसार मृतकों की पहचान की जा रही है। फिलहाल, हादसे की वजह पता नहीं चल पाई है। जिला पुलिस प्रवक्ता गणेश खानल ने कहा, ‘‘12 यात्रियों की मौके पर ही मौत हो गई थी। दो ने अस्पताल में दम तोड़ा। घायलों का इलाज चल रहा है। हादसे के बाद ड्राइवर मौके से फरार हो गया, जबकि उसके सहायक की हालत गंभीर है।’’ कहा जा रहा है बारिश के चलते सकड़ों पर फिसलन थी. इसके अलवा जहां ये हादसा हुआ हुआ कोहरा भी था.

School Van Accident In Shajapur : मध्यप्रदेश में बच्चों से भरी स्कूल वैन कुएं में गिरी, कई बच्चों की मौत

बता दें कि इससे पहले नेपाली(Accident In Sindhupalchok Nepal) सेना की एक बस हादसे का शिकार हो गई थी। 14 दिसंबर, 2019 को सुर्खेत से काठमांडू जा रही सेना की एक बस अनियंत्रित होकर पहाड़ से खाई में जा गिरी। इस हादसे में नेपाली सेना के 30 जवान घायल हो गए। आपको बता दें कि इस साल नवंबर महीने में भी नेपाल में एक बड़ा सड़का हादसा हुआ था, जहां 19 लोगों की मौत हो गई थी. नेपाल पुलिस के अनुसार पिछले 10 सालों में देश में सड़क हादसों में जान गंवाने वालों का आंकड़ा 22 हजार के पार पहुंच चुका है। पिछले कुछ सालों में खराब सड़कों और खराब यात्री वाहनों की वजह से सड़क दुर्घटनाएं बढ़ी हैं।

School Bus Accident In Hoshangabad : MP स्कूल बस पलटने से भीषण हादसा, 22 बच्चे…

-Mradul tripathi

Share.