आयुर्वेद चिकित्सालय का कामकाज ठप

0

मध्यप्रदेश में पिछले दिनों से चल रही अलग- अलग संगठनों की काम बंद हड़ताल के थमने के बाद अब प्रदेश के आयुर्वेद छात्र संगठन ने अपना आंदोलन शुरू कर दिया है| आंदोलन के पहले दिन विद्यार्थियों ने अपनी मांगों को लेकर राऊ आयुर्वेद चिकित्सालय का घेराव कर प्रदर्शन किया और कामकाज ठप कर दिया| इस घेराव के कारण अस्पताल में अपना उपचार करवाने पहुंचे मरीजों को खाली हाथ लौटना पड़ा| खास बात तो यह है कि जिस दिन छात्रों ने कामकाज ठप किया, उसी दिन अस्पताल में इलाज करवाने आने वाले मरीजों की संख्या सबसे अधिक होती है|

3 सूत्रीय मांगों को लेकर हुआ घेराव 

राऊ आयुर्वेद चिकित्सालय का घेराव छात्रों ने अपनी 3 सूत्रीय मांगों को लेकर किया| छात्र संगठन स्टायपेंड को बढ़ाने की मांग कर रहे हैं| छात्र इसी के साथ  पीएससी और एनआरएचएम के तहत रोजगार की मांग भी कर रहे हैं| छात्र संगठन के अध्यक्ष प्रवीण चौरे का कहना है कि राज्य साशन के अधीन वे सभी  तरह से चिकित्सा कार्य में सहयोग देने को तैयार हैं किंतु सरकार को साथ आना होगा| सरकार चिकित्सकों से भेदभाव छोड़कर समान अधिकार देने की बात करे अन्यथा छात्रों को मजबूरी में भूख हड़ताल पर जाना पड़ेगा ।

राऊ आयुर्वेद चिकित्सालय में हुआ हंगामा

छात्रों के घेराव के दौरान मरीजों को ओपीडी पर्ची भी बनाने में दिक्कत आती रही| छात्रों के घेराव के कारण अस्पताल में हंगामा होता रहा| इस हंगामे के कारण  पंचकर्म, सर्जरी , प्रसूति विभाग प्रभावित रहे| इस दौरान अस्पताल में भर्ती मरीजों की हालत ख़राब रही| इन मरीजों को देखनेवाला कोई नहीं मिला|

Share.