आग के हवाले विवाहिता, 3 पुलिसकर्मी सस्‍पेंड

0

एक महिला को दबंगों द्वारा छेड़छाड़ का विरोध करना महंगा पड़ गया| जब महिला ने विरोध किया तो दबंगों ने उसे ज़िन्दा जला दिया| गंभीर हालत में महिला को अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां डॉक्टरों ने बताया कि पीड़िता की हालत नाजुक बनी हुई है| पीड़िता के परिवार ने गांव के ही कुछ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है|

जानकारी के अनुसार, उत्तरप्रदेश के सीतापुर के तंबौर में डीजीपी के निर्देश पर आईजी रेंज सुजीत पांडे ने इंस्पेक्टर तंबौर ओम प्रकाश सरोज, हलका इंचार्ज एसआई मनोज और मुंशी छेदीलाल को निलंबित कर दिया है| दरअसल, ऐसा इसीलिए किया गया क्योंकि जब पीड़ित परिवार की ओर से मामले की पुलिस को शिकायत की गई तो पुलिसवालों ने लापरवाही की और कार्रवाई नहीं की| वहीं दोनों आरोपियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है|

पीड़ित परिवार ने बताया कि विवाहिता देर शाम गांव के बाहर शौच के लिए गई थी, तब वहां गांव के ही रामू और राजेश ने उसे पकड़ लिया और परेशान करने लगे| जब महिला ने आपत्ति जताई तो रामू और राजेश ने उस पर केरोसिन डालकर आग लगा दी| महिला की चीख सुन गांव के लोग वहां पहुंचे, तब तक महिला काफी जल चुकी थी| जब मामला पुलिस के पास पहुंचा तो उन्होंने इसे नजरअंदाज करते हुए कोई कार्रवाई नहीं की| विवाहिता ने कुछ दिन पहले रामू और राजेश के द्वारा की गई छेड़खानी की शिकायत तंबौर इंस्पेक्टर से की थी, लेकिन उनके द्वारा शिकायत के बावजूद भी कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए थे|

Share.