लिबास पर बवाल

0

नेशनल इलिजिबिलिटी टेस्ट (NET) की परीक्षा में जबरन हिजाब उतरवाने और परीक्षा में बैठने से मना करने का एक मामला सामने आया है। गोवा की राजधानी पणजी में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की ओर से यूजीसी नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (NET) का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान 24 वर्षीय सफीना खान सौदागर ने आरोप लगाया कि 18 दिसंबर को परीक्षा में शामिल होने के लिए उन्हें पर्यवेक्षक ने हिजाब उतारने की बात कही, लेकिन जब सफीना ने इस बात से इनकार किया तो उसे परीक्षा में बैठने नहीं दिया गया।

इस आरोप पर सुरक्षा अधिकारियों ने सुरक्षा और नक़ल रोकने का हवाला देते हुए कहा कि इस परीक्षा में सुरक्षा की दृष्टि से और नक़ल रोकने के लिए हिजाब और अन्य चीजों की अनुमति नहीं है। उन्होंने कहा कि चोरी रोकने की वजह से यह फैसला लिया गया। सौदागर का कहना है कि दोपहर 1 बजे जब वह परीक्षा देने पहुंचीं, तब उम्मीदवारों की पहचान-पत्र की जांच प्रक्रिया शुरू हुई और वे कतार में लग गईं। आगे सफीना ने कहा, “जब मैं पर्यवेक्षण अधिकारी के पास पहुंची तो उन्होंने मेरे दस्तावेज देखे, मुझे देखा और हिजाब उतारने के लिए कहा। पर्यवेक्षक ने कहा कि हिजाब के साथ मैं परीक्षा हॉल में नहीं जा सकती।”

इसके बाद सफीना ने पर्यवेक्षक को बताया कि यह उनकी धार्मिक परम्परा के विरुद्ध है और इसी वजह से वे हिजाब नहीं हटा सकती। इस बात पर पर्यवेक्षक ने उन्हें हिजाब के साथ परीक्षा में बैठने की अनुमति प्रदान नहीं की। पर्यवेक्षक का कहना है कि हिजाब के साथ केंद्र के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी जा सकती।

OMG : हिजाब पहनने के कारण महिलाकर्मी को मिली यह सज़ा

तारीफ़ के काबिल है सौम्या की हिम्मत

कॉलेज में मुस्लिम छात्रा के साथ किया..

 

Share.