कोर्ट के फैसले के बाद भी क्या महिलाओं को मिलेगा सबरीमाला मंदिर में प्रवेश?

0

केरल के सबरीमाला मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं को प्रवेश देने के संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाया था, लेकिन अभी भी इस मामले पर विवाद कायम है| अभी भी यह संशय बना हुआ है कि सबरीमाला में महिलाओं को प्रवेश मिलेगा या नहीं| केरल के सबरीमाला में भगवान अयप्पा के दर्शन करने के लिए मंदिर के बाहर अभी भी कई महिलाएं बैठी हुई हैं| जहां कई धार्मिक महिलाएं भी मंदिरों में महिलाओं के प्रवेश का विरोध कर रही हैं वहीं कई महिलाओं के मन में अभी भी दर्शन की आस जगी हुई है|

केरल सरकार नहीं लगाएगी रोक

28 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले ने राज्य के लोगों को दो गुटों में बांट दिया है| केरल के मुख्यमंत्री पिनारई विजयन ने साफ कर दिया कि सबरीमाला मंदिर मुद्दे पर किसी को कानून अपने हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी| सरकार श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश करने के लिए सभी ज़रूरी व्यवस्था करेगी| सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को चुनौती देने के लिए सरकार सुप्रीम कोर्ट में कोई समीक्षा याचिका नहीं डालेगी|

महिला ने किया आत्महत्या का प्रयास

कोर्ट के फैसले के विरुद्ध एक महिला ने आत्मदाह करने का प्रयास किया| मंगलवार को केरल में कई जगह लोग विरोध कर रहे हैं, वहीं एक महिला ने खुलेआम खुद को फांसी से लटकाने का प्रयास किया हालांकि लोगों ने उसे बचा लिया| महिला एक पेड़ पर चढ़ गई, उसने रस्सी से फांसी का फंदा बनाया और खुद के गले में फंदा डालकर फांसी से लटकने का ऐलान किया| वह आत्महत्या करती इससे पहले ही लोगों ने उसे उतार लिया|

Share.