नेपाल से ओवरसाइट मैकेनिज्म के तहत बातचीत शुरू

0

चीन के बहकावे में आ कर भारत को आंख दिखने की हिमाकत करने वाले नेपाल से अब नए सिरे से बातचीत का दौर शुरू किया गया है. भारत और नेपाल के बीच सोमवार को राजनयिक वार्ता शुरूआत हुई. काठमांडु में नेपाल के विदेश सचिव शंकर दास बैरागी और भारतीय राजनयिक विनय ख्वात्रा के बीच वार्ता हो रही है.हालाँकि यह पहले से तय थी और इसका मौजूदा विवाद से कोई वास्ता नही था लेकिन अब जब हालात बदले है तो इस वार्ता की अहमियत बढ़ गई है. बता दे कि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर बातचीत की थी.

PM KP Oli calls PM Narendra Modi, first step to normalize Indo ...

दोनों देशों की ओर संबंधों को लेकर कूटनीतिक भाषा में चर्चा होगी और इसमें –

क्या यह नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की नरमी है

भारत के साथ छल करने के बाद चीन से प्रोजेक्ट जारी रख सकें

हो सकता है समझ आ गया हो कि भारत के बिना नेपाल का गुजर बसर जरा मुश्किल है

15 अगस्त को नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फोन करने के बारे में चर्चा हो सकती है

प्रधानमंत्री ओली ने स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हुए पीएम मोदी को कहा कि इस संवाद को किसी के हार जीत और किसी के झुकने और किसी के अड़ने के रूप में नहीं लिया जाए. संबंधों में सुधार हो रहा है, दोनों तरफ से प्रयास हो रहे हैं. आधिकारिक बयान में कहा गया कि प्रधानमंत्री ने नेपाल के पीएम को टेलीफोन कॉल के लिए धन्यवाद दिया और भारत-नेपाल के सदियों पुराने और सांस्कृतिक संबंधों को याद किया. प्रधानमंत्री मोदी और पीएम केपी शर्मा ओली के बीच ये बातचीत सीमा विवाद शुरू होने के बाद पहली बार हुई है.

pm narendra modi and nepal prime minister kp sharma oli discussion ...

विवाद की वजह

8 मई को भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लिपुलेख दर्रे को उत्तराखंड के धारचूला से जोड़ने वाली 80 किलोमीटर लंबी रणनीतिक सड़क का उद्घाटन किया

इसके बाद नेपाल ने लिपुलेख, कालापानी और लिम्पियाधुरा को अपना इलाका बताते हुए नया नक्शा जारी कर दिया.

जून में नेपाल की संसद ने इस राजनीतिक नक्शे को मंजूरी भी दे दी.

भारत ने जवाब में कहा कि नेपाल ने अपनी सीमा का जो ‘बनावटी क्षेत्र विस्तार’ किया है, उसका कोई आधार नहीं है.

महेंद्र सिंह धोनी और सुरेश रैना ने कहा क्रिकेट को अलविदा

अब

17 अगस्त को भारत और नेपाल के बीच ओवरसाइट मैकेनिज्म के तहत बैठक हो रही है.

द्विपक्षीय आर्थिक और विकास के प्रोजेक्ट्स की समीक्षा होगी.

ओवरसाइट मैकेनिज्म 2016 में विकसित हुआ

Positive signs from Nepal Bangladesh PM Oli said Golden Era of ...

Share.