हिमालय में भूकंप कभी भी आ सकता है

0

वैज्ञानिकों ने एक अध्ययन के जरिये हिमालय में भूकंप आने की आशंका जताई है। वैज्ञानिकों के अनुसार, हिमालय क्षेत्र के आसपास 8.5 या उससे अधिक की तीव्रता का भूकंप आने की संभावना है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, वर्तमान में जिस तरह की भौगोलिक घटनाएं हो रही हैं, उसे देखते हुए इलाके में 8.5 तीव्रता का भूकंप कभी भी आ सकता है। जवाहरलाल नेहरू सेंटर के भूकंप विशेषज्ञ सीपी राजेंद्रन के मुताबिक, इस क्षेत्र में भारी मात्रा में तनाव है| भविष्य में केंद्रीय हिमालय में 8.5 या उससे अधिक की तीव्रता के भूकंप आने की संभावना है।

जियोलॉजिकल जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, शोधकर्ताओं की दो नई खोजी गई जगहों के आंकड़ों के साथ पश्चिमी नेपाल और चोरगेलिया में मोहन खोला के आंकड़ों के साथ मौजूदा डेटाबेस का मूल्यांकन किया। यह भारतीय सीमा के अंदर आता है।

बता दें कि शोधकर्ताओं ने इसरो के कार्टोसैट-1 उपग्रह से गूगल अर्थ और इमेजरी का उपयोग करने के अलावा भूगर्भीय सर्वेक्षण के भारत द्वारा प्रकाशित स्थानीय भूविज्ञान और संरचनात्मक मानचित्र का उपयोग किया गया।

अध्ययन के अनुसार, केंद्रीय हिमालय के 15 मीटर की औसत से सरकने के कारण 1315 और 1440 मीटर के बीच खिंचाव से 8.5 या उससे अधिक तीव्रता का एक बड़ा भूकंप क्षेत्र के लगभग 600 किमी तक फैला है।

इससे पहले पूर्व नानयांग टेक्नोलॉजिकल विश्वविद्यालय की अगुवाई में एक रिसर्च टीम ने भी पाया था कि मध्य हिमालय क्षेत्रों में रिक्टर पैमाने पर 8 से 9 तीव्रता का शक्तिशाली भूकंप आने का खतरा बरकरार है। शोधकर्ताओं ने एक बयान में कहा कि सतह टूटने संबंधी खोज़ का हिमालय पर्वतीय क्षेत्रों से जुड़े इलाकों पर गहरा असर हो रहा है।

यहां लगे तीव्र भूकंप के झटके

इंडोनेशिया में भूकंप से भारी जनहानि, अब तक 400 लोगों की मौत

इंडोनेशिया में आया 7.5 तीव्रता का भूकंप

Share.