वेनेज़ुएला करेंसी की स्थिति बेहद खराब

0

वेनेज़ुएला दक्षिणी अमरीका महाद्वीप में स्थित एक देश है। यहां हालात ये हैं कि अरबपति भी दो वक़्त की रोटी नहीं जुटा पा रहे हैं। असल में यहां नोटों की वैल्यू कागज़ की तरह हो गई है। यहां की करेंसी  बोलिवर होती है और एक किलो सब्जी खरीदने के लिए लाखों बोलिवर देने पड़ रहे हैं। यदि आपके पास थैला भर कर नोट है, तब भी आप अपना पेट नहीं भर सकते।  देश के हालात इतने बिगड़ गए हैं कि लोग वेनेजुएला को छोड़कर पड़ोसी देश कोलंबिया भागने को मजबूर हैं।

वेनेज़ुएला में आलम यह है कि यहां एक ब्रेड की कीमत हजारों बोलिवर हो गए हैं। जहां सस्ती सी ब्रेड के लिए ही लोगों को हज़ारों बोलिवर चुकाने पड़ रहे हैं,वही एक किलो मीट के लिए 95 लाख बोलिवर और एक लीटर दूध के लिए 80 हजार बोलिवर तक खर्च करने पड़ रहे हैं। इस मज़बूरी के कारण वहां के लोगों को पलायन करना पड़ रहा है। कोलंबिया का कहना है कि चंद दिनों में वेनेजुएला के करीब 10 लाख लोग उनके यहां आकर शरण ले चुके हैं, जिस कारण उन पर दबाव बन रहा है। यहां की सरकार ने दुनियाभर के देशों से गुहार लगाई है कि वे यहां के हालात सुधारने में उनकी मदद करें। 20वीं शताब्दी की शुरुआत में वेनेज़ुएला में कच्चे तेल की खोज की गई और आज वेनेज़ुएला के पास दुनिया का सबसे बड़ा ज्ञात तेल भंडार है और यह तेल के दुनिया के अग्रणी निर्यातकों में से एक है, लेकिन अब यहां हालत बहुत खराब है।

रोज़मर्रा की ज़रूरत की चीजें फिलहाल वहां इन दामों में उपलब्ध है|

एक कप कॉफी : 25 लाख

एक किलो मीट : 95 लाख

एक किलो पनीर : 75 लाख

एक किलो गाजर : 30 लाख

एक किलो चावल : 25 लाख

एक किलो आलू : 20 लाख

एक किलो टमाटर : 50 लाख

एक प्लेट नॉनवेज थाली : 1 करोड़

जानकारों का कहना है कि वैश्विक स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट आने के चलते वेनेज़ुएला में आर्थिक संकट आया है। इस संकट से उबरने के लिए वह की सरकार अन्य देशों से मदद की गुहार लगा रही है।

Share.