हाथरस में किसी को भी प्रवेश नहीं

0

उत्तर प्रदेश के हाथरस में गैंगरेप के बाद देशभर में फिर से आक्रोश की ज्वाला जल उठी है. पीड़िता की मौत के बाद उसका जबरन अंतिम संस्कार पुलिस की लीपापोती पर पूरा देश सवाल कर रहा है.

लाइव अपडेट

हाथरस गैंगरेपः पीड़िता का गांव सील, किसी को आने-जाने की इजाजत नहीं, पुलिस का सख्त पहरा

हाथरसप TMC सांसदों को पीड़िता के गांव से पहले रोका

परिजनों से मुलाकात पर अड़े नेता

हाथरसपहुंचे TMC सांसद डेरेक ओ ब्रायन और काकोली घोष

अब इस पर राजनीति भी शुरू हो गई है और विपक्ष सत्ताधारी केंद्र सरकार और राज्य की योगी सरकार को निशाना बनाने से नहीं चूक रहा है.
इसी क्रम में
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा आज ही पीड़िता के परिवार से हाथरस में मुलाकात करेंगी.

प्रियंका गांधी के साथ उनके भाई और कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी जाएंगे.

राहुल और प्रियंका के हाथरस जाने की खबरों के बीच दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर भी सुरक्षा बढ़ाई गई

हाथरस जिले की सीमाएं सील कर दी गई हैं. यहां पर धारा 144 लगा दी गई है.

पीड़िता की मौत के बाद प्रियंका ने पीड़िता के परिवार से फोन पर बात की

प्रियंका ने यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ का इस्तीफा मांगा है.

प्रियंका गांधी वाड्रा की ओर से यूपी सरकार पर निशाना साधा गया है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि हाथरस जैसी वीभत्स घटना बलरामपुर में घटी, लड़की का बलात्कार कर पैर और कमर तोड़ दी गई. आजमगढ़, बागपत, बुलंदशहर में बच्चियों से दरिंदगी हुई. यूपी में फैले जंगलराज की हद नहीं. मार्केटिंग, भाषणों से कानून व्यवस्था नहीं चलती, ये मुख्यमंत्री की जवाबदेही का वक्त है जनता को जवाब चाहिए.

हाथरस:सत्य-असत्य तय करती मीडिया, पुलिस और सरकार

आम आदमी पार्टी की ओर से गुरुवार को ही मुंबई में प्रदर्शन किया जाएगा

इस बीच प्रदेश सरकार ने जिस SIT का गठन किया

गृह सचिव भगवान स्वरूप की अगुवाई में एसआईटी की टीम ने पीड़िता के परिवार से मुलाकात की.

गौरतलब है कि हाथरस में 19 साल की दलित युवती के साथ चार लोगों ने गैंगरेप किया था.

पंद्रह दिन बाद दिल्ली में युवती की मौत हो गई थी.

पुलिस ने हाथरस पहुंचकर खुद ही युवती के शव को जला दिया, जबकि परिवार को अंतिम दर्शन और संस्कार नहीं करने दिया

Share.