यूपी में भाजपा नेता को उतारा मौत के घाट

0

उत्तरप्रदेश में गुंडाराज ख़त्म करने का दावा खोखला साबित हो रहा है। उत्तरप्रदेश में न तो खुद पुलिस सुरक्षित है न ही नेता। बदमाशों के हौसले इतने बुलंद हैं कि सत्ताधारी नेता को भी वे अपना निशाना बनाने से नहीं चूक रहे। अपराधी इतने बेखौफ हैं कि दिनदहाड़े किसी को भी अपना निशाना बना लेते हैं। बेखौफ अपराधियों ने उत्तरप्रदेश में एक बार फिर कानून को ताक पर रख भाजपा के एक नेता की हत्या कर दी। उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में भाजपा नेता प्रत्युष मणि त्रिपाठी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई।

जानकारी के अनुसार, वारदात को सोमवार देर रात अंजाम दिया गया। अपराधियों ने भाजपा नेता प्रत्युष मणि त्रिपाठी पर देर रात हमला कर दिया और उन पर चाकू से वार किए। प्रत्युष मणि त्रिपाठी को घायल अवस्था में लखनऊ के ट्रामा सेंटर लाया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। भाजपा नेता की मौत की खबर जैसे ही उनके समर्थकों को मिली तो ट्रामा सेंटर के बाहर उनके समर्थकों ने जमकर हंगामा किया।

समर्थकों द्वारा किए जा रहे हंगामे को शांत करवाने के लिए लखनऊ के डीएम तत्काल ट्रामा सेंटर पहुंचे और समर्थकों को शांत कराया। डीएम ने समर्थकों को विश्वास दिलाया कि जल्द से जल्द प्रत्युष मणि त्रिपाठी के हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पुलिस ने कार्यवाई करते हुए हत्यारों की तलाश में कई जगह छापेमारी की।

जानकारी के अनुसार, हत्या पुरानी रंजिश के चलते की गई है। प्रत्युष मणि त्रिपाठी बीजेपी युवा मोर्चा के पूर्व प्रदेश मंत्री थे और कुछ दिन पहले ही उनकी किसी से बहस हो गई थी। इस बहस के बाद त्रिपाठी ने लिखित शिकायत पुलिस थाने में दर्ज करवाई थी। अब इस हत्या के मामले में पुलिस ने बादशाह नगर के सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगालने की कवायद शुरू कर दी है। हत्यारों की तलाश के लिए अभी भी पुलिस द्वारा छापामारी की जा रही है। इस घटना के बाद से विपक्षी दलों को भाजपा पर निशाना साधने का एक और मौका मिल गया। विपक्षी दलों का कहना है कि जब भाजपा के राज में खुद उनके ही नेता सुरक्षित नहीं है तो भला आम जनता का क्या होगा? इस पर भाजपा की तरफ से कहा गया है कि पुलिस अपना काम कर रही है और जल्द ही अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

भाजपा नेता के खिलाफ 23 मुस्लिम उम्मीदवार

भाजपा नेता ने की कार्यालय में आत्महत्या की कोशिश

Video: वरिष्ठ भाजपा नेता ने दिखाया भाजपा विधायक को आईना

Share.