शून्य से भी नीचे पहुंचा काश्मीर का पारा

0

काश्मीर की हसीन वादियां बर्फ की चादर से पूरी तरह ढंक चुकी हैं। बर्फीली हवाएं पूरे काश्मीर में ठिठुरन पैदा कर रही हैं। काश्मीर और लद्दाख क्षेत्र में सोमवार को भी शीतलहर अपना कहर बरपा रही है। क्षेत्र में रात का तापमान शून्य से भी कई डिग्री नीचे चले जाने के बाद वैसा ही बना रहा। जम्मू-काश्मीर के अलावा आसपास के इलाकों में भी शीतलहर के कारण तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। शीतलहर का सबसे ज्यादा कहर गुलमर्ग, पहलगाम, श्रीनगर, लेह और कारगिल में देखने को मिला, जहां तापमान शून्य से भी बहुत नीचे पहुंच गया।

मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि जम्मू एवं कश्मीर के हालात अगले चार-पांच दिनों तक ऐसे ही बने रहेंगे। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर में अगले 4-5 दिनों तक शुष्क मौसम रहेगा और इसी के साथ रात में आसमान साफ रहेगा। इन्हीं परिस्थितियों के कारण इस अवधि में मौसम की मौजूदा स्थिति ऐसी ही बनी रहेगी। मौसम विभाग ने कहा कि इस अवधि में शीतलहर का क़हर जारी रहेगा।

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से भी 4.8 डिग्री नीचे रिकॉर्ड किया गया जबकि पहलगाम और गुलमर्ग में तापमान शून्य से 8.3 डिग्री नीचे दर्ज किया गया। लेह की यदि बात की जाए तो यहां का तापमान शून्य से 16.1 डिग्री नीचे रिकॉर्ड किया गया है। वहीं सीमा रेखा क्षेत्र कारगिल में शून्य से भी 11.4 डिग्री नीचे तापमान दर्ज किया गया है।

तापमान माइनस 5 डिग्री तक पहुंचा

इतने से कम नहीं कर सकेंगे एसी का तापमान

मध्यप्रदेश में बढ़ा सर्द हवाओं का क़हर

Share.