जीआरपी पुलिस के हत्थे चढ़े तस्कर

0

उत्तरप्रदेश के चंदौली जिले में कछुओं की तस्करी करने वाले 3 लोगों को राजकीय रेलवे पुलिस ने गिरफ्तार किया है। कछुओं की तस्करी करने वाली गैंग के 3 सदस्य रेलवे पुलिस के हत्थे चढ़ गए। तीनों तस्करों को चंदौली जिले के दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से गिरफ्तार किया गया है। जानकारी के अनुसार तीनों तस्करों(Three Turtle Smugglers) के पास से 250 कछुए बरामद किए गए हैं।

जानकारी के अनुसार, बरामद किए गए कछुओं की कीमत अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार में 50 लाख रुपए बताई जा रही है। प्रभारी निरीक्षक आरके सिंह ने बताया कि दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर जीआरपी के जवान रूटीन चेकिंग कर रहे थे। तभी उनकी नज़र तीन युवकों पर पड़ी, जो अपने साथ बैग और बोरे लिए हुए थे। शक के आधार पर जवानों ने तीनों के बैग और बोरे की तलाशी ली, जिसमें 250 कछुए छिपाकर रखे हुए थे। जवानों ने तीनों तस्करों को हिरासत में ले लिया।

पूछताछ में तस्करों ने बताया कि वे गोरखपुर से कछुओं की इस खेप को लेकर पश्चिम बंगाल जा रहे थे। तस्कर हावड़ा में किसी व्यक्ति को यह कछुए देने वाले थे। तीनों तस्कर गोरखपुर के कैम्पियरगंज के रहने वाले हैं। तीनों तस्करों के खिलाफ वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर जेल भेजा गया है। तस्करों से बरामद किए गए कछुओं को वन विभाग के सुपुर्द कर दिया गया है। पुलिस तस्करों से पूछताछ कर रही है और इस गैंग के अन्य सदस्यों के बारे में पता लगा रही है।

एके-47 तस्करी मामला : हिरासत में पुलिसकर्मी

मानव तस्करी की ओर बढ़ता भारत

अलवर में गो तस्करी के शक में भीड़ ने की हत्या

Share.