website counter widget

image1

image2

image3

image4

image5

image6

image7

image8

image9

image10

image11

image12

image13

image14

image15

image16

image17

image18

गतिरोध के कारण राज्यसभा में पेश नहीं हुआ तीन तलाक बिल

0

मानसून सत्र के अंतिम दिन भी राज्यसभा में गतिरोध बरक़रार रहा| कांग्रेस सदस्यों के भारी हंगामे और आम सहमति न बन पाने की वजह से राज्‍यसभा में तीन तलाक बिल पेश नहीं हो सका| अब कहा जा रहा है कि इसे शीत सत्र में पेश किया जाएगा| हालांकि सरकार के पास इस पर अध्यादेश लाने का भी विकल्प है| सरकार की पूरी कोशिश थी कि आज सदन में बिल पास हो जाए|

राज्यसभा की कार्यवाही शुक्रवार को दो बार स्‍थगित हुई| पहले कार्यवाही को हंगामे के बाद 2.30 बजे तक टाला गया और इसके बाद सभापति ने कहा कि इस बिल को आज लिया जाएगा| विपक्ष ने बिल पेश करने से पहले ही राफेल डील पर राज्यसभा में जोरदार हंगामा कर दिया था| गौरतलब है कि तीन तलाक बिल को पास करने के लिए शुक्रवार सुबह ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने वरिष्ठ मंत्रियों की बैठक बुलाई थी, जिसमें बैठक में रविशंकर प्रसाद, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान, प्रकाश जावड़ेकर और विजय गोयल शामिल हुए थे| हालांकि यह नहीं बताया गया कि उस बैठक में क्या तय हुआ था|

गौरतलब है कि यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने कहा था कि तीन तलाक बिल पर कांग्रेस का रुख एकदम स्पष्ट है| कांग्रेस सदस्यों ने लोकसभा में राफेल विमान सौदे का मुद्दा उठाते हुए सभापति के आसन के समीप जाकर नारेबाजी की| इस मुद्दे पर शून्यकाल के दौरान कांग्रेस सदस्यों ने सदन से वॉकआउट भी किया|

शून्यकाल में ही तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन ने व्यवस्था का प्रश्न उठाते हुए कहा कि शुक्रवार को भोजनावकाश के बाद गैरसरकारी कामकाज होता है और उस अवधि में विधायी कार्य नहीं हो सकते हैं| गोयल ने आरोप लगाया कि विपक्ष नहीं चाहता कि तीन तलाक विधेयक को पारित किया जाए इसलिए कई मुद्दे उठाए गए|

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.