OMG! सांसद के पैर धोकर कार्यकर्ता ने पीया पानी और फिर देखें Video…

0

हमने नेताओं और मंत्रियों के प्रति कार्यकर्ताओं की भक्ति तो कई बार देखी होगी| लोग अपने प्रिय नेता की पूजा करते हैं, उनकी हर बात मानते हैं, लेकिन एक कार्यकर्ता ने सांसद को भगवान ही मान लिया और उसके पैर धोए| इतना ही नहीं, भगवान के पैर धोने के बाद जैसे भक्त चरणामृत पीते हैं, वैसे ही कार्यकर्ता ने सांसद के पैर धोकर पानी पीया| दरअसल, झारखंड के गोड्डा से भारतीय जनता पार्टी के सांसद निशिकांत दुबे ने अपनी एक फोटो शेयर की, जिसके बाद से वे विपक्ष के निशाने पर आ गए|

दरअसल, वायरल तस्वीर में सार्वजनिक स्थल पर एक कार्यकर्ता उनके पैर धोकर पानी पी गया| बड़ी बात यह है कि जब कार्यकर्ता ऐसा कर रहा था, तब सांसद ने उन्हें मना भी नहीं किया और इस कार्यक्रम की तस्वीर को अपने फेसबुक पेज से शेयर कर दी| तस्वीर पोस्ट होते ही बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ट्रोल होने लगे और उनकी जमकर आलोचना हो रही है|

मामला बढ़ने के बाद भाजपा सांसद ने सफाई दी और कहा, “यदि कार्यकर्ता खुशी का इज़हार पैर धोकर कर रहा है तो क्या गजब हुआ? पैर धोना तो झारखंड में अतिथि के लिए होता ही रहा है| कार्यक्रम में आदिवासी महिलाएं क्या यह नहीं करती हैं? इसे राजनीतिक रंग क्यों दिया जा रहा है| क्या अतिथि का पैर धोना गलत है? अपने पुरखों से पूछिए, महाभारत में कृष्णजी ने क्या पैर नहीं धोए थे?”

गौरतलब है कि भाजपा सांसद निशिकांत दुबे रविवार को कनभारा पुल के शिलान्यास के मौके पर एक कार्यक्रम में पहुंचे थे| वहां उनकी पार्टी के कार्यकर्ता इस बात से खुश थे कि सांसद ने अपने वादे के अनुसार, पुल का निर्माण निर्धारित समय के भीतर करवा दिया| सांसद के सम्मान में कसीदे पढ़ते हुए भाजपा कार्यकर्ता पंकज शाह ने कहा कि पुल का शिलान्यास कर सांसद ने बहुत बड़ा उपकार किया है| इसके लिए उनके चरण धोकर पीने का मन कर रहा है| इसके बाद उन्होंने उसने मंच पर ही थाली और पानी मंगवाया और निशिकांत दुबे के पैर धोए|

Share.