जेईई मेन्स में ऐसे मिलेगा लाभ

0

मध्यप्रदेश में शासन द्वारा मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना में संशोधन किया जा रहा है| अब जेईई मेन्स परीक्षा में एक लाख 50 हजार तक रैंक में आने वाले विद्यार्थियों को भी इस योजना का लाभ मिलेगा| पहले यह लाभ 50 हजार तक रैंक वाले विद्यार्थियों को ही मिल पाता था|

माध्यमिक शिक्षा मंडल की 12वीं की परीक्षा में शैक्षणिक सत्र 2018-19 से 70 प्रतिशत या उससे अधिक अंक और सीबीएसई या आईएससीएसआई की 12वीं की परीक्षा में 85 प्रतिशत या उससे अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को योजना का लाभ मिलेगा|

इस योजना के अनुसार, शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों की फीस शासन द्वारा दी जाएगी| निजी कॉलेज को देय शुल्क डेढ़ लाख रुपए तक अथवा वास्तविक रूप से देय शुल्क, जो कम हो, शासन द्वारा दिया जाएगा| यदि किसी इंजीनियरिंग कॉलेज में अलग से प्रवेश परीक्षा के आधार पर प्रवेश दिया जाता है और छात्र जेईई मेन्स में एक लाख 50 हजार तक की रैंक में आता है तो उसे भी योजना का लाभ मिलेगा|

वहीं जिन विद्यार्थियों ने राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा ‘नीट’ के आधार पर केन्द्र या राज्य शासन के मेडिकल कॉलेज और प्रदेश स्थित प्रायवेट मेडिकल कॉलेज के एमबीबीएस पाठ्यक्रम में प्रवेश लिया है तो उनकी फीस राज्य शासन द्वारा वहन की जाएगी|

Share.