शहीद औरंगजेब की मौत का बदला लेंगे ये 50 युवक

0

जम्मू-कश्मीर  में 14 जून को  भारतीय सेना के जवान औरंगजेब को आतंकियों ने अगवा कर हत्या कर दी थी| इसके बाद भी आतंकी कई सैनिकों को अगवा कर चुके हैं| अब इन आतंकियों को सबक सिखाने के लिए 50 युवक साउदी अरब से अपनी नौकरी छोड़ देश लौट आए हैं| ये युवक सेना में शामिल होना चाहते हैं और शहीदों की मौत का बदला लेना चाहते हैं|

गौरतलब है कि 14 जून को राइफलमैन औरंगजेब छुट्टी को लेकर ईद मनाने घर जा रहे थे| उन्हें रस्ते में ही आतंकवादियों ने पकड़ लिया था और हत्या कर दी थी| मोहम्मद किरामत और मोहम्मद ताज जो सऊदी अरब से नौकरी छोड़कर आये हैं उन्होंने बताया कि वे लोग अब पुलिस और सेना में भर्ती होना चाहते हैं ताकि देश की सेवा कर सके| औरंगजेब की हत्या के बाद से घाटी में इसी तरह से दो पुलिसकर्मियों और एक सीआरपीएफ जवान की हत्या हो चुकी है|

मोहम्मद किरामत ने कहा कि, जैसे ही उन्हें भाई औरंगजेब की हत्या के बारे में पता चले उन्होंने उसी दिन सऊदी अरब छोड़ दिया| उन्होंने कहा, “हमने जबरदस्ती करके नौकरी छोड़ी, हमने किसी तरह से ये सब कुछ मैनेज किया| गांव के 50 युवक हमारे साथ वापस आ गये| हमारा अब एक ही मकसद है औरंगजेब की मौत का बदला|”

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर आतंकी गतिविधियां लगातार बढ़ती ही जा रही हैं| वहां रह रहे लोगों को सेना की तरफ से धमकियां मिल चुकी हैं कि वे सेना या पुलिस में नौकरी न करें और जो कर रहे हैं वो भी छोड़ दें| आतंकवादियों की ओर से एक वीडियो जारी कर गया कि सभी लोग एसपीओ की नौकरी छोड़ दें| वीडियो में आतंकवादी मुदसीर वानी ने भी कहा कि एसपीओ की नौकरी बहुत ही अपमानजनक है|

यह खबर भी पढ़े – मोदी और इमरान के बीच बातचीत पर बोली महबूबा

यह खबर भी पढ़े – एनआरसी से बाहर हुए लोग कहीं चले न जाएं दूसरे राज्य

यह खबर भी पढ़े – खतना पर SC : क्या महिलाएं पालतू मवेशी हैं?

Share.