टेरर फंडिंग: सैयद सलाउद्दीन का बेटा गिरफ्तार

0

आतंकी सरगना सैयद सलाउद्दीन को करारा झटका लगा है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने आतंकी फंडिंग के मामले में श्रीनगर से हिज्बुल मुजाहिद्दीन के चीफ सैयद सलाउद्दीन के बेटे सैयद शकील अहमद को गिरफ्तार किया है। शकील अहमद पेशे से लैब टेक्नीशियन है। शकील को उसके घर से गिरफ्तार किया गया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एनआईए ने शकील के घर पर पहले छापा मारा, जहां से उन्हें कई चौंकाने वाले दस्तावेज मिले, जिसके आधार पर सैयद शकील अहमद को गिरफ्तार किया गया। रिपोर्ट के अनुसार, यह गिरफ्तारी आतंकी फंडिंग के मामले में की गई है। सैयद शकील को एनआईए ने अपनी बात रखने का कई मौके दिए थे, लेकिन उन्होंने 2011 के टेरर फंडिंग के केस के मामले में कोई जानकारी जांच एजेंसी को नहीं दी थी। बता दें कि इससे पहले भी एनआईए सलाउद्दीन के एक बेटे को गिरफ्तार कर चुकी है। पिछले साल एनआईए ने सैयद शाहिद को मनी लॉन्ड्रिंग केस में गिरफ्तार किया था।

कौन है सैयद सलाउद्दीन ?

सैयद मोहम्मद यूसुफ शाह, जिसे सैयद सलाउद्दीन के नाम से जाना जाता है। सलाउद्दीन कश्मीर मे काम कर रहे समूह हिजबुल मुजाहिद्दीन का प्रमुख है। अप्रैल 2014 में जम्मू-कश्मीर में हुए बम धमाकों की जिम्मेदारी भी सैयद सलाउद्दीन के आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन ने ली थी। इसमें 17 लोग घायल हो गए थे।

सैयद के पांचों बेटे पढ़े-लिखे

सलाहुद्दीन के पांच बेटे हैं, जिसमें बड़ा बेटा सैयद शकील अहमद श्रीनगर के शेरे कश्मीर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस में मेडिकल असिस्टेंट है। दूसरा बेटा जावेद युसूफ जोनल एजुकेशन ऑफिस में कंप्यूटर ऑपरेटर है। तीसरा बेटा शाहिद युसूफ श्रीनगर में कृषि विभाग में कार्य करता है। चौथा बेटा वाहिद युसूफ श्रीनगर के कश्मीर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस में डॉक्टर है। वहीं पांचवां बेटा सैयद मुईद कंप्यूटर इंजीनियर है।

Share.