मसूद अजहर को फंसाने में धोनी का हाथ!

0

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इस समय आईपीएल 12 में चेन्नई की कप्तानी कर रहे हैं| उनकी अगुवाई में टीम इस समय टॉप पर बनी हुई है| भारतीय टीम को दो बार विश्व कप (वनडे और टी20) और चैम्पियंस ट्रॉफी जीताने वाले धोनी की क्रिकेट में मिसाले दी जाती हैं| युवा खिलाड़ी उनके खेल से काफी कुछ सीखते हैं| क्रिकेट के मैदान में ‘थाला’ की प्लानिंग कभी फ़ैल नहीं होती| हम सभी ने उनके चक्रव्यू में बड़े-बड़े खिलाड़ियों को फंसते देखा है, लेकिन इस बार माही की प्लानिंग में जो फंसा है वह कोई खिलाड़ी नहीं बल्कि आतंकी मौलाना मसूद अजहर है|

Related image

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) ने बुधवार को पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मौलाना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किया| मसूद अजहर के वैश्विक आतंकी घोषित होने पर इसे भारत की कूटनीतिक जीत के तौर पर देखा जा रहा है| वैश्विक आतंकी घोषित होने बाद भारतीय राजदूत अकबरुद्दीन ने दिया धोनी का उदाहरण पेश किया| उन्होंने बताया की धोनी के दृष्टिकोण की वजह से उन्हें यह सफलता हासिल हुई|

Image result for मौलाना मसूद अजहर

भारतीय राजदूत ने कहा, “मैं एमएस धोनी के दृष्टिकोण में यकीन करता हूं…ये सोचते हुए कि किसी लक्ष्य को पूरा करने की कोशिश के दौरान आप जितना सोचते हैं उससे कहीं ज्यादा वक्त होता है| कभी मत कहिए समय खत्म हो गया, कभी भी जल्द हार मत मानिए|”

सैयद अकबरूद्दीन

बता दें मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित कराने के लिए भारत को 10 साल लंबा इंतज़ार करना पड़ा| भारत 2009 से ही मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित कराने की कोशिशों में जुटा था, लेकिन पाकिस्तान के मित्र राष्ट्र चीन की तरफ से संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत के इस प्रस्ताव के खिलाफ हर बार वीटो करके इस आतंकी को बचा ले गया, लेकिन 10 साल बाद आखिरकार मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी करार दे ही दिया गया|

कांग्रेस ने की 6 बार सर्जिकल स्ट्राइक

Share.