Surgical Strike 2 : 10 खास बातें, जिससे पकिस्तान हुआ तबाह

0

पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) के 13वें दिन ही भारत ने पाकिस्तान से बदला ले लिया| पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद द्वारा किया गया यह हमला भारतीय सैन्य दल पर किए गए सबसे बड़े हमले में से एक है| इससे पहले 29 सितंबर 2016 को उरी हमले के बाद भी पाकिस्तान पर एक सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike) की थी| वहीं आज पाकिस्तान की सीमा में वायुसेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक को सर्जिकल स्ट्राइक 2 (Surgical Strike 2 Facts) कहा जा रहा है|

जानिए कैसे होती है सर्जिकल और एयर स्ट्राइक

 

आइए जानते हैं सर्जिकल स्ट्राइक 2 (Surgical Strike 2 Facts) से जुड़ी 10 ख़ास बातें|

 14 फरवरी 2019 को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे| इसके बाद से ही शहीदों के परिवार सहित देशवासी, बॉलीवुड और क्रिकेट जगत के सितारे पाकिस्तान से बदला लेने की मांग कर रहे थे|

 मंगलवार सुबह करीब 3:30 बजे भारतीय वायु सेना के 12 मिराज 2000 फाइटर प्लेन ने पाकिस्तानी सीमा में एयर स्ट्राइक की|

लगभग 21 मिनट की ये एयर स्ट्राइक पाकिस्तान में तीन जगहों बालाकोट, चकोटी और मुजफ्फराबाद के आतंकी ठिकानों पर की गई|

भारतीय वायुसेना ने इस एयर स्ट्राइक में करीब 1000 किलो विस्फोटक के बम गिराकर पाकिस्तानी सीमा में भारी तबाही मचा दी| जैश-ए-मुहम्मद के कंट्रोल रूम अल्फा-तीन को पूरी तरह तबाह किया गया|

Surgical Strike 2 : तबाह जैश, जश्न में देश, राहुल सहित अन्य की प्रतिक्रियाएं

पाकिस्तान सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने सुबह 5:12 बजे ट्वीट कर हमले की जानकारी दी| उन्होंने भारतीय वायु सेना पर LoC के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए हमले की पुष्टि की|

पाकिस्तान सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने सुबह 7:06 बजे दूसरा ट्वीट कर किसी तरह के नुकसान से इंकार किया|

पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इस्लामाबाद स्थित विदेश मंत्रालय में आपात बैठक बुलाई| भारत को समझदारी से काम लेने की नसीहत दी|

 भारत ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निवास स्थान पर कैबिनेट कमेटी की बैठक की| इसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण, गृहमंत्री राजनाथ सिंह और विदेशी मंत्री सुषमा स्वराज समेत कई केंद्रीय मंत्री व सचिव शामिल रहे|

पाकिस्तान के F-16 फाइटर प्लेनों ने भारतीय वायु सेना की एयर स्ट्राइक का मुकाबला करने के लिए उड़ान भरी, लेकिन मिराज का काफिला देख वापस लौट गए| साथ ही भारतीय सेना ने करीब 10:30 बजे राजस्थान से लगी सीमा पर पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया|

1971 युद्ध के बाद ये पहला मौका है जब भारतीय वायु सेना के फाइटर प्लेनों ने पाकिस्तानी सीमा के काफी अंदर बालाकोट (खैबर पख्तूनख्वा) तक जाकर तबाही मचाई है|

Surgical Strike 2 Unseen Photos : अभी देखें हमले से जुडी ताज़ा तस्वीरें

-ह्रदय

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.