यूपी में गो-सफारी खोलने की तैयारी में योगी सरकार

0

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गायों का ध्यान रखने के लिए विशेष तौर पर जाने जाते है। जब यूपी सरकार में आये थे तब से ही उन्होने गौ-मांस गौ-तस्करी और बूचड़खानो को बंद करने के लिए सख्त कदम उठाये थे। अब उन्होंने इसके लिए एक और ख़ास काम किया है जिसमे निराश्रित गौ वंशो के लिए गो-सफारी (Go Safari In Uttar Pradesh) खोलने पर विचार कर रही है. इसकी शुरुआत बाराबंकी (Barabanki) से होगी. अगर सब कुछ ठीक रहा तो प्रदेश के अन्य जिलों में भी इसकी शुरुआत होगी. दरअसल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की अध्यक्षता में निराश्रित गोवंश के संबंध में हुई बैठक में पशुधन एवं दुग्ध विकास मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी (Lakshmi Narayan Chaudhary) ने गो-सफारी बनाने का प्रस्ताव रखा.

उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता पर मिट्टी का तेल डालकर जिंदा जलाया

मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी कहा कि बाराबंकी जिले में कमियार घाट पर 25 सौ एकड़ भूमि उपलब्ध है। इस पर गो-सफारी बनाई जा सकती है। मुख्यमंत्री ने गो-सफारी (Go Safari In Uttar Pradesh) के प्रस्ताव में दिलचस्पी दिखाई है। उन्होंने इसे सकारात्मक ढंग से लेते हुए इसकी विस्तृत कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए हैं।

Indore : जीतू सोनी के होटल ‘माय होम’ पर चला बुलडोजर

लक्ष्मी नारायण चौधरी ने बताया कि बाराबंकी के अलावा शाहजहांपुर में 392 एकड़ और महाराजगंज में लगभग 800 एकड़ जमीन उपलब्ध है। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि अन्य जिलों में यह देखा जाए कि जमीन की कितनी उपलब्धता है। उन्होंने बताया कि पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर कमियार घाट, बाराबंकी में गो-सफारी बनाने की कार्य योजना तैयार कराई जा रही है। गो-सफारी को भविष्य में पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने पर भी विचार किया जा रहा है।

मध्यप्रदेश में खड़े ट्रक से टकराई बस, 10 से अधिक लोगों की मौत

-Mradul tripathi

Share.