website counter widget

शादी का झांसा देकर रखवाले ने ही लूट ली इज्जत

0

उत्तर प्रदेश में रेप की वारदात बढ़ती जा रही हैं। वैसे तो उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अपराध पर लगाम लगाने के बड़े-बड़े वादे करती है लेकिन आय दिन सामने आने वाले इन सभी दावों की पोल खोल कर रख देते हैं। योगी सरकार बलात्कार की घटनाओं पर रोक लगाने में नाकाम साबित हो रही है। ऐसा ही एक बलात्कार का मामला उत्तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) से सामने आया है। इस मामले में पीड़ित युवती ने एक फौजी पर शादी का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है।

फौजी के खिलाफ शिकायत लेकर पीड़िता एसपी देहात से मिलने पहुंची। पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा कि आरोपी युवक के परिजन ने युवक की शादी किसी दूसरी लड़की के साथ तय कर दी है। अपनी शिकायत में पीड़िता ने युवक की शादी रुकवाने के साथी उसके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। पीड़िता ने बताया कि बीते 4 सालो से उसका और गढ़मुक्तेश्वर के रहने वाले परमजीत नाम के युवक का प्रेम प्रसंग चल रहा था। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि आरोपी युवक भारतीय सेना में है और सीमा पर उसकी तैनाती चल रही है। परमजीत पर आरोप लगाते हुए पीड़िता ने कहा कि बीती 5 सितंबर को परमजीत ने उसे गढ़ रोड स्थित एक होटल में बुलाया था। जब युवती परमजीत से मिलने होटल पहुंची तब आरोपी ने उसे शादी का झांसा दिया और उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया।

हालांकि इसके बाद दोनों के परिजन शादी के लिए एक दूसरे से मिले और बातचीत चलने लगी। वहीं पीड़िता का कहना है कि सब कुछ सही चल रहा था लेकिन अब अचानक आरोपी युवक के परिजन शादी से इंकार कर रहे हैं। इतना ही नहीं परमजीत के परिजनों ने परमजीत की सगाई भी किसी दूसरी युवती से बीती 30 सितंबर को कर दी। पीड़िता का कहना है कि जब उसे युवक की सगाई की जानकारी मिली थी तो वह इसे रुकवाने के लिए परीक्षितगढ़ थाने पहुंची थी। उसने आरोपी युवक के खिलाफ बीते 14 सितंबर को शिकायत दर्ज करवाई थी लेकिन पुलिस ने युवक की सगाई नहीं रुकवाई और न ही कोई कार्रवाई की। पीड़िता ने एसपी देहात से आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। युवती की शिकायत पर एसपी देहात अविनाश पांडे ने जांच और कार्रवाई के आदेश दे दिए हैं।

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.