website counter widget

उत्तर प्रदेश के होने जा रहे तीन टुकड़े, जाने सच्चाई

0

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जल्द ही उत्तर प्रदेश को तीन राज्यों में बांटने जा रही है। दरअसल इस बात का दावा सोशल मीडिया पर किया जा रहा है। सोशल मीडिया पर इस बात का दावा कर प्रदेश के ज़िला मुख्यालयों की एक सूची शेयर की जा रही है। इसके बारे में कहा जा रहा है कि “सरकार ने यूपी के बंटवारे का मसौदा तैयार कर लिया है।” अब यह बात सोशल मीडिया पर छायी हुई है। फेसबुक, ट्विटर और वॉट्सऐप यूजर लगातार इस बात का दावा कर रहे हैं कि उत्तर प्रदेश को 3 राज्यों में बांटा जाने वाला है। इन तीनों राज्यों के नाम भी सोशल मीडिया पर बताए जा रहे हैं। उपभोक्ताओं का कहना है कि तीन राज्यों के नाम – उत्तर प्रदेश, बुंदेलखण्ड और पूर्वांचल होंगे।

वहीं यूजर कह रहे हैं कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ ही रहेगी जबकि दूसरे राज्य की राजधानी प्रयागराज होगी। वहीं तीसरे राज्य की राजधानी गोरखपुर होगी। यह लिस्ट तेजी से वायरल हो रही है। इतना ही नहीं इस सूची को लेकर यह भी दावा किया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों को उत्तराखंड, दिल्ली और हरियाणा में भी शामिल किया जाएगा। कहा जा रहा है कि इसकी पूरी योजना यूपी की योगी सरकार ने बना ली है। बेहद जल्द इस बात की घोषणा कर दी जाएगी। हालांकि इसकी सच्चाई के बारे में फिलहाल कोई भी जानकारी नहीं मिली है। कई यूजर इस सूची को गृह मंत्रालय के हवाले से शेयर कर रहे हैं। तो वहीं कुछ उपभोक्ताओं का दावा है कि इस सूची को यूपी सरकार द्वारा तैयार किया गया है। हालांकि इस सूची को यूपी सरकार और केंद्र सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों ने फर्जी बताया है।

अधिकारियों का कहना है कि यह सूची फर्जी है और सरकार इस दिशा में कोई क़दम नहीं उठाने जा रही है। इस सूची के बारे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सूचना सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने कहा, “उत्तर प्रदेश के बंटवारे की कोई योजना नहीं है। यूपी सरकार के सामने इस तरह का कोई प्रस्ताव नहीं है। सोशल मीडिया पर इससे संबंधित जो भी ख़बरें घूम रही हैं, वो फ़र्ज़ी हैं। लोग ऐसी अफ़वाहों पर ध्यान ना दें।”

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.