शादियों का अर्धशतक लगा चुके हैं ये

0

भारतीय कानून में एक बीवी के होते दूसरी शादी करना अपराध है| देश में कई लोग ऐसा अपराध करते हैं, जिसके लिए कानून में सजा का प्रावधान भी है| अखबारों में कई बार हमने एक व्यक्ति द्वारा 2 या 3 शादियों के बारे में सुना है, लेकिन आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने एक नहीं बल्कि 50 से अधिक शादियां की है| ये कोई आम नागरिक नहीं बल्कि 5 बार सांसद और 4 बार विधायक रह चुके हैं|

रांची के बागुन सुम्ब्रई वर्ष 1967 से 5 बार झारखंड के चाईबासा से सांसद और 4 बार विधायक रह चुके हैं| 94 वर्षीय बागुन के बारे में बताया जाता है कि वे 58 शादियां कर चुके हैं| इनमें से कई पत्नियों के तो वे नाम भी भूल चुके हैं| 1942 में उनकी पहली शादी हुई थी और अब उनके कई बेटे-बेटियां और पोते-पोतियां हैं|

बागुन सुम्ब्रई के आदिवासी वर्ग से आते हैं| आदिवासी समुदाय में एक से ज्यादा पत्नियां रखने पर कोई रोक नहीं है| बागुन 16,108 शादियां करने वाले भगवान कृष्ण को प्रेरणा स्रोत मानते हैं| उनके मुताबिक, उन्होंने भी कृष्ण की तरह वंचित-शोषित महिलाओं की मदद करने के लिए उन्हें अपने साथ रखा|

उन्होंने अधिक शादी करने की वजह भी बताई| पूर्व सांसद सुम्ब्रई की माने तो उन्हें किन्हीं लड़कियों के पीछे भागने की जरूरत नहीं पड़ी| वे खुद उनकी ओर आकर्षित हो रही थीं| बागुन ने बताया, “मैं क्या कर सकता था? मैं उन्हें निराश नहीं कर सकता था, जो मुझसे शादी करना चाहती थीं|”

Share.