दुष्कर्म कर महिला को हवनकुंड में ज़िंदा जलाया…

0

देश में महिलाओं के खिलाफ छेड़छाड़ और दुष्कर्म के मामलों को जितना रोकने की कोशिश की जा रही है, उतनी ही ये घटनाएं तेजी से बढ़ती जा रही हैं| आए दिन कोई न कोई महिला या बच्ची दरिंदों का शिकार बन जाती है| जैसे-जैसे ऐसी घटनाएं बढ़ रही है, वैसे-वैसे अपराधियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं| इन घटनाओं से यह पता चलता है कि अभी कानून को और सख्त बनाने की जरूरत है|

ऐसा ही एक हृदयविदारक मामला उत्तरप्रदेश के संभल से भी सामने आया है| यहां 35 वर्षीय एक महिला के साथ दुष्कर्म करने के बाद उसके घर के पास ही स्थित मंदिर के हवनकुंड में उसे ज़िंदा जला दिया गया| इतनी बड़ी घटना होने के बाद भी इस मामले में पुलिस ने अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया है|

पीड़िता का पति गाज़ियाबाद में मजदूरी करता है| पीड़िता के परिवार वालों ने पांच लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई| पुलिस ने बताया कि जब महिला अपने घर सोई थी, तब बदमाश उसके घर में घुस गए और घटना को अंजाम दिया|

 

इतनी बड़ी घटना के बाद भी पुलिस इस मामले को दुष्कर्म की घटना मानने से इनकार कर रही है| कहा जा रहा है कि घटना के बाद महिला ने पुलिस से मदद मांगने की कोशिश की, लेकिन 100 नंबर पर उसे कोई जवाब नहीं मिला| पीड़िता और उसके चचेरे भाई के बीच हुई बातचीत का ऑडियो क्लिप भी सामने आ गया है, जिसमें पीड़िता अपने साथ दुष्कर्म की बात बता रही है|

जब यह बात फ़ैल गई तो बदमाश फिर घर में दाखिल हुए और महिला को घसीटते हुए मंदिर में ले गए| बदमाशों ने सामूहिक दुष्कर्म के सबूत नष्ट करने के मकसद से मंदिर में बने हवनकुंड में महिला को ज़िंदा जलाकर मार डाला| आरोपियों की पहचान आरामसिंह, महावीर, चरणसिंह, गुल्लू और कुमरपाल के रूप में हुई है| ये सभी उसी गांव से हैं, जिसमें महिला रहती थी|

Share.