यूपी पुलिस अपराधी को नहीं बल्कि कुत्ता पकड़ने में है माहिर

0

पुलिस का काम चोरों और अपराधियों को पकड़ना होता है, लेकिन उत्तरप्रदेश पुलिस अपराधियों को पकड़ने के  बजाय कुत्तों को पकड़ने का काम अच्छे से कर रही है| दरअसल, जब एक सांसद प्रतिनिधि का कुत्ता खो गया तो वह पुलिस के पास मदद मांगने गया| पुलिस ने शिकायत के बाद महज कुछ घंटों में ही कुत्ता ढूंढ निकाला| मामला आगरा के शमशाबाद का है, जहां के पुलिस वालों ने कुत्ता ढूंढ निकाला|

दरअसल, महापुर निवासी मेगसिंह कुशवाहा ने 13 सितंबर 2018 को शमशाबाद थाने में एक शिकायत की थी, “13 सितंबर की रात करीब 8 बजे उनका लेब्रा डॉग प्रजाति का मोती नामक पालतू कुत्‍ता घर के दरवाजे पर बंधा था, लेकिन कुछ ही देर में वह वहां से अचानक गायब हो गया| काफी खोजबीन की, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला| आशंका है कि कोई मोती को चुराकर ले गया है|

इस शिकायत के बाद पुलिस तुरंत हरकत में आ गई क्योंकि मामला सांसद से जुड़ा था| पुलिस फ़ोर्स सांसद के कुत्ते को ढूंढने में जुट गई| पुलिस ने सांसद प्रतिनिधि मेगसिंह कुशवाहा का लेब्रा डॉग प्रजाति का मोती नाम का कुत्‍ता शमशाबाद से करीब 7 किलोमीटर दूर बंजारापुरा गांव से खोज निकाला| इसके बाद उनकी जमकर तारीफ़ हुई, लेकिन यूपी पुलिस इस सवाल से घिर गई कि क्या वे अपराधियों से पहले कुत्तों को पकड़ लेते हैं| अब इस बारे में कोई भी अधिकारी बोलने को तैयार नहीं है|

Share.