गोरा करने के लिए पत्थर से रगड़ती थी महिला

0

बच्चों की त्वचा बहुत ही कोमल होती है, जिसे उचित देखरेख की आवश्यकता होती है| क्या कभी आपने सुना है कि कोई मां अपने बच्चे को गोरा करने के लिए उसे पत्थर से ऐसे रगड़ती हो कि बच्चे की त्वचा ही छिल जाए|

यह दिल दहला देने वाला मामला मध्यप्रदेश के भोपाल का है| यहां से पुलिस ने एक ऐसे बच्चे को बचाया है, जिसे गोरा करने के लिए एक महिला पत्थर से रगड़ती थी| बताया जा रहा है कि आरोपी सुधा तिवारी पेशे से एक सरकारी स्कूल में टीचर है और उसका पति एक प्राइवेट हॉस्पिटल में काम करता है| उन्होंने बच्चे को उत्तराखंड के मातृछाया से डेढ़ वर्ष पहले गोद लिया था| अब बच्चे की उम्र पांच वर्ष है| उसका रंग सांवला होने के कारण महिला ने उसका इलाज भी कराया| किसी ने सुधा को सलाह दी थी कि काले रंग के पत्थर से बच्चे को रगड़ा जाए तो वह गोरा हो सकता है| सलाह मानते हुए सुधा कई दिनों से बच्चे को पत्थर से रगड़ रही है| इससे मासूम की कलाई, कंधे, पीठ और पैरों में गंभीर घाव हो गए हैं|

सुधा की बड़ी बहन की बेटी ने मामले की जानकारी पुलिस को दी, जिसके बाद महिला की गिरफ्तारी की गई और बच्चे को अस्पताल पहुंचाया गया| चाइल्ड लाइन की डायरेक्टर अर्चना सहाय ने बताया कि जब बच्चे को महिला से बचाया गया तो वह बेहद बुरी हालत में था| उसके पूरे शरीर पर घाव थे| बच्चे को तुरंत अस्पताल ले जाया गया|

Share.