आरा में कन्हैया कुमार के काफिले पर आठवीं बार पथराव

0

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार (Stone Pelting On Kanhaiya Kumar) के काफिले पर आज एक बार फिर से पथराव किया गया। इस पथराव से बचकर भागने के दौरान तेज रफ़्तार गाड़ियों ने कई लोगों को कुचल डाला। तेज रफ़्तार गाड़ियों की चपेट में आने की वजह से कई लोग घायल हो गए। दरअसल कन्हैया कुमार आरा के रमना मैदान में आज सभा करने जा रहे थे तभी उनके काफिले पर कुछ असामाजिक तत्वों ने पथराव कर दिया जिससे कन्हैया (Kanhiya Kumar) की गाड़ी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। बता दें कि बिहार में कन्हैया कुमार के काफिले पर यह आंठवा हमला है इससे पहले भी उनके काफिले पर पथराव हो चुके हैं। काफिले पर पथराव के बाद कन्हैया और उनके साथियों को वहां से जान बचाकर भागना पड़ा। मिली जानकारी के अनुसार कन्हैया (Stone Pelting On Kanhaiya Kumar) के काफिले के साथ चल रही पुलिस ने कन्हैया को सुरक्षित दूसरी गाड़ी में बैठाकर सभा स्थल पहुंचाया। इस हमले में कन्हैया कुमार पूरी तरह सुरक्षित हैं लेकिन उनकी गाड़ी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। इससे 2 दिन पहले यानी 12 फ़रवरी को भी कन्हैया के काफिले पर हमला किया गया था। बिहार में लगातार उनके काफिले को निशाना बनाया जा रहा है। कन्हैया कुमार बिहार में जन गण मन यात्रा कर रहे हैं जो एक पखवाड़े बाद पटना में विशाल रैली के साथ समाप्त होगी।

BJP-AAP में रैप बैटल, किसका टाइम आएगा, दिल्ली वाला बताएगा, देखें Video

बता दें कि इससे पहले 5 फ़रवरी को भी कन्हैया कुमार (Stone Pelting On Kanhaiya Kumar) के काफिले पर कुछ असमाजिक तत्वों ने पत्थरबाजी की थी। इस पथराव के कारण कन्हैया के काफिले में शामिल एक युवती समेत 3 अन्य लोगों को चोटें आई थीं। ये पथराव तब किया गया था जब सीपीआई नेता कन्हैया कुमार (CPI leader Kanhaiya Kumar) सुपौल में जनसभा को संबोधित करके सहरसा जा रहे थे। इस दौरान रास्ते में उनके काफिले पर पथराव किया गया जिसकी वजह से उनकी गाड़ी के शीशे टूट गए थे। बता दें कि उस दौरान 20-30 लोग पहले से ही सदर थाना के पास मल्लिक चौक पर मौजूद थे और CAA के समर्थन में नारेबाजी कर रहे थे। चौक पर जैसे ही कन्हैया का काफिला पंहुचा वैसे ही उन लोगों ने कन्हैया पर काली स्याही फेंक दी थी। कन्हैया (Stone Pelting On Kanhaiya Kumar)  की ‘जन गण मन यात्रा’ के दौरान उनके काफिले पर लगातार हो रहे हमलों के बाद भाकपा के राज्य सचिवव सत्यनारायण सिंह का एक बयान सामने आया था। उन्होंने बयान जारी करते हुए कहा था कि इन हमलों के पीछे आरएसएस और बीजेपी समर्थित लोगों का हाथ है। इसके अलावा उन्होंने कहा था कि, यदि सरकार इन हमलों को गंभीरता से नहीं लेती और कोई कार्रवाई नहीं करती तो फिर बेहद जल्द इसके लिए आंदोलन किया जाएगा।

BJP का प्रचार करने पर सपना को लोगों ने दिया Shocking जवाब

इतना ही नहीं सुपौल में कन्हैया (Stone Pelting On Kanhaiya Kumar)  के काफिले पर हुए पथराव के दौरान ही एक युवक ने कन्‍हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) पर मारपीट का आरोप भी लगाया था। इसके बाद कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर एक ट्वीट कर लिखा था कि, इस हमले में हमारे एक ड्राइवर साथी को गंभीर चोट आई है और कई वाहन क्षतिग्रस्त हुए हैं। बाकी हम सभी साथी सुरक्षित हैं।” वहीं आज आरा में सभा से पहले कन्हैया ने अपने ट्विटर अकाउंट (Kanhaiya Kumar tweet) से एक ट्वीट कर इस सभा की जानकारी दी थी और लिखा था कि, “आज जन-गण-मन यात्रा का क़ाफ़िला बक्सर में सभा करने के बाद आरा पहुंचेगा। गोडसे-प्रेमियों ने आरा में होने वाली सभा के मंच मे कल रात आग लगा दी है लेकिन हम तो जाएंगे मोहब्बत का कारवां लेकर और लगाएंगे नफ़रत से आज़ादी के नारे। इंक़लाब मंच का मोहताज नही होता दोस्तों।”

BJP विधायक और उसके 6 परिजनों पर महिला ने लगाया दुष्कर्म का आरोप

Prabhat Jain

Share.