बहरूपिये साधू गिरोह का भंडाफोड़ 50 से अधिक लूट का खुलासा

0

सोनीपत: साधु के भेष में बहरूपियों के द्वारा लूटपाट की घटना को अंजाम देने का मामला प्रकाश में आया है. इस नकली साधू गिरोह के तीन सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। गिरोह के सदस्य पानीपत, करनाल, जींद, झज्जर, रोहतक सहित आस पास के कई जिलों में लगातार लूट कर रहे थे। लूटपाट की घटना को अंजाम देने के लिए राह चलते लोगों से रास्ता पूछते और फिर चंदा मांगने के बहाने यह पता लगाते कि उसके पास कितने रुपए हैं। इसके बाद आरोपी रुपए छीनकर फरार हो जाते थे। आरोपियों ने पूछताछ के दौरान विभिन्न जिलों में लूट की लगभग 50 घटनाओं का खुलासा किया है। आरोपी कृष्णनाथ निवासी काहनोरा जिला रिवाडी, सुरेंद्र नाथ व सिकंदरनाथ निवासी टिटाना जिला पानीपत को पुलिस ने पूछताछ के लिए तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है।

जानकारी के अनुसार एएसपी उदय सिंह मीणा ने बताया कि 31 अगस्त को ओमप्रकाश पुत्र अर्जुन सिह निवासी माहरा ने थाना बरोदा में शिकायत दी थी कि तीन युवक रेलवे ओवर ब्रिज माहरा की सीमा से 85 हजार रूपये की नकदी छिनकर ले गये है. जिस पर पीड़ित की शिकायत पर बरोदा थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू की थी. जिस की जांच गोहाना सीआईए पुलिस को सौंपी गई थी.  आरोपी साधु का भेष धारण करके थे। जब वे राहगीरों से रास्ता पूछते तो उन्हें शक नहीं होता था कि लुटेरे हैं। इसका फायदा उठाते हुए घटना को अंजाम देकर फरार हो जाते थे। एक बार वारदात का अंजाम देने के बाद उस क्षेत्र से फरार हो जाते थे और दूसरे जिले में जाकर वारदात को अंजाम देते थे।

-Mradul tripathi

Share.