बस एक कॉल पर अब महिलाओं को घर छोड़ने जाएगी पुलिस की गाड़ी

0

गंगटोक : देश भर में महिलाओं के साथ हो रही घटनाओं को देखते हुए महिला सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं। सरकार इन अपराधों पर नियंत्रण करने में लगातार नाकाम साबित हो रही है। महिला सुरक्षा के सरकार के सारे वादे हवा होते जा रहे हैं। ऐसे में पुलिस प्रशासन द्वारा महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए एक नई पहल की गई है (Sikkim Police Offer Free Rides To Women)। इस पहल की शुरुआत सिक्किम पुलिस ने की है। दरअसल रात में महिलाओं को सुरक्षित (Women Safety) घर पहुंचाने के लिए अब रात में उन्हें फ्री यात्रा सेवा मुहिया उपलब्ध कराई जाएगी। हालांकि महिलाओं को रात में सुरक्षित उनके घर तक पहुंचाने वाला सिक्किम देश का दूसरा राज्य बन गया है। इससे पहले पंजाब पुलिस ने सुविधा को शुरू किया था।

कांग्रेस के कारण लाया गया ‘नागरिकता संशोधन बिल’

सिक्किम पुलिस (Sikkim Police Offer Free Rides To Women) महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उन्हें रात में फ्री यात्रा सुविधा मुहैया करवाएगी। राज्य की राजधानी गंगटोक में यदि कोई भी महिला रात में अकेली है और कोई भी सवारी नहीं दिखाई दे रही है तो ऐसे में पुलिस उस महिला को उसके घर तक छोड़ेगी। इस तरह की सुविधा से महिलाएं सुरक्षित रहेंगी और दुष्कर्म जैसी वारदातों में कमी आएगी। इस योजना की शुरुआत रविवार को की गई। एक पुलिस अधिकारी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार रविवार को राज्य के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग ने इस सुविधा की शुरुआत की। इस सर्विस का उद्देश्य महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित कर उन्हें यात्रा सेवा देना और उन्हें पूरी सुरक्षा के साथ घर तक पहुंचाना है।

सरकार के नए नियम से सरकारी, गैर सरकारी सभी की बढ़ जाएगी सैलरी

अधिकारी ने आगे बताया कि यदि कोई महिला रात में कहीं भी फंसी हो और उसे न तो यातायात का साधन मिल रहा हो न ही उसके अलावा कोई सवारी हो तो ऐसे में महिला पुलिस द्वारा जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर 1091 और 7837018555 पर कॉल कर वाहन उपलब्ध कराने की मांग कर सकती है। इस हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करने के बाद महिला द्वारा बताई गई लोकेशन पर नियंत्रण कक्ष वाहन या थाना प्रभारी का वाहन पहुंच जाएगा और महिला को सुरक्षित घर तक छोड़ेगा। इस सुविधा के तहत रात 10 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक वाहन उपलब्ध कराया जाएगा। इससे पहले मंगलवार को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस तरह की फ्री पुलिस हेल्प की घोषणा की थी। पंजाब में रात 9 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक के लिए यह सुविधा शुरू की गई है।

16 दिसंबर को होगी निर्भया के दरिंदों को फांसी !

Prabhat Jain

Share.