महाराष्ट्र में BJP से अलग सरकार बनाएगी शिवसेना!

0

महाराष्ट्र में कुर्सी के लिए लड़ाई जारी है। फिलहाल यह कहना बेहद मुश्किल है कि महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना मिलकर सरकार बनाती हैं या फिर शिवसेना भाजपा से अलग अपनी सरकार बनाएगी। फिलहाल इस बात को लेकर काफी संशय है। लोगों का कौतुहल भी काफी बढ़ता जा रहा है। दोनों दलों के बीच चल रही बयानबाजी को देखकर लग रहा है कि दोनों पार्टियां एक दूसरे से असहमत हैं। अब इसी बीच शिवसेना के संजय राउत (Sanjay Raut) का बयान सामने आया है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) के बयान के बाद संजय राउत ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री का कहना है कि दोनों दलों के बीच 50-50 के फॉर्मूले पर कभी चर्चा नहीं की गई, तो इसका मतलब सच की परिभाषा बदले जाने की जरूरत है।

इस मामले में संजय राउत (Sanjay Raut) का कहना है कि दोनों दलों के बीच 50-50 फॉर्मूले को लेकर बात की गई थी। और यह बात खुद मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस (Devendra Fadnavis) ने मीडिया के सामने कही थी। संजय राउत ने अपने बयान में कहा, “मैं नहीं जानता कि मुख्यमंत्री ने क्या कहा है। अगर वे कह रहे हैं कि 50-50 फॉर्मूले पर कभी बात ही नहीं हुई तो मुझे लगता है कि सच की परिभाषा बदलने की जरूरत है। जो भी चर्चा हुई, इस मुद्दे पर जिसके बारे में सीएम बात कर रहे हैं, उसे सभी जानते हैं। वहां मीडिया भी था।” इसके आगे राउत ने कहा, “सीएम ने खुद 50-50 फॉर्मूले के बार में बोला था, उद्धव जी ने भी इसके बारे में बात की थी। यह सब अमित शाह के सामने हुआ था।”

संजय (Sanjay Raut) के अनुसार महाराष्ट्र में सरकार को लेकर जो चर्चा की गई थी उसमे अमित शाह (Amit Shah) और उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के साथ मीडिया भी मौजूद थी। इन सभी की मौजूदगी में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस (Devendra Fadnavis) ने 50-50 फॉर्मूले की बात कही थी। संजय ने आगे कहा, “अगर अब वह कह रहे कि ऐसी कोई बात नहीं हुई तो मैं प्रणाम करता हूं ऐसी बातों को। वह कैमरे के सामने कही बातों को मानने से इनकार कर रहे हैं।” इससे पहले सीएम देवेंद्र ने कहा था कि, इस फॉर्मूले पर कोई भी फैसला नहीं किया गया था। उन्होंने यह भी कहा था कि जो भी बात हुई है वह सिर्फ अमित शाह और उद्धव ठाकरे के बीच हुई और इस बारे में उन्हें कोई भी जानकारी नहीं है।

Prabhat Jain

Share.