website counter widget

Video : महिला यात्री को मौत के मुंह से खींच लाया इंजीनियर

0

देश में हादसों की संख्या में कोई ब्रेक लगता नज़र नहीं आ रहा है। लेकिन कई बार ऐसा भी देखने में आता है कि कोई व्यक्ति किसी को मौत के मुंह से खींचकर उसकी जान बचा लेता है। आज के दौर में जहां लोग किसी की मदद करने से पहले हादसे का वीडियो बनाना ज्यादा जरूरी समझते हैं, ऐसे में कई लोग ऐसे भी हैं जो मुसीबत के समय में फरिश्ता बन लोगों की जान बचा लेते हैं। ऐसा ही एक वाकया सामने आया कटक रेलवे स्टेशन (Cuttack railway station) से, जहां एक रेलवे इंजीनियर (Odisha Railway Engineer Saves Woman) ने एक महिला यात्री की जान बचा ली।

OMG : इस गांव में सभी रहते हैं निर्वस्त्र

यह पूरी घटना ओडिशा के भुवनेश्वर में कटक रेलवे स्टेशन (Odisha Railway Engineer Saves Woman) पर घटित हुई। दरअसल पुड्डुचेरी-हावड़ा एक्सप्रेस (Puducherry-Howrah Express) कटक स्टेशन पर नहीं रुकी। इस दौरान एक महिला यात्री चलती हुई ट्रेन से उतरने की कोशिश करने लगी। लेकिन महिला यात्री चलती हुई ट्रेन से उतरने की कोशिश में प्लेटफॉर्म पर ही गिर जाती है। हालांकि वह महिला ट्रेन नहीं छोड़ती और काफी दूर तक घिसटती चली जाती है। जैसे ही महिला प्लेटफॉर्म पर गिरती है तो प्लेटफॉर्म पर खड़े वरिष्ठ सेक्शन इंजीनियर (Senior section engineer) (सिग्मल एंड टेलिकॉम) टीआर बारिक (T R Barik) महिला को बचाने दौड़ पड़ते हैं। यह पूरी घटना गुरुवार शाम 4 बजे की बताई जा रही है।

OMG : 5 दिन क्यों रहती हैं महिलाएं नग्न अवस्था में

जैसे-तैसे कर टीआर बारिक और ट्रेन के यात्री महिला को अंदर खींच लेते हैं और वह ट्रेन और प्लेटफॉर्म के बीच के गैप में आने से बच जाती है। इस घटना का वीडियो (Odisha Railway Engineer Saves Woman) शुक्रवार को ईस्ट कोस्ट रेलवे (East coast railway) ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया। 38 सेकंड के इस वीडियो में यह साफ़ दिखाई दे रहा है कि इंजीनियर ने कैसे महिला की जान बचाई। फरिश्ता बनकर आए इंजिनियर ने महिला को कोच के अंदर ही धकेल कर आखिर उसकी जान बचा ली। इस मामले में ईस्ट कोस्ट रेलवे के महाप्रबंधक विद्या भूषण ने, टीआर बारिक को सम्मानित किया और उन्हें नकद पुरस्कार दिया।

महिला का अनोखा कारनामा, लग्जरी कार पर लेप डाला गोबर,

हालांकि यह पहली घटना नहीं थी। इससे पहले पिछले साल 17 अगस्त को भी इसी स्टेशन पर ऐसी ही एक घटना घटित हुई थी। उस समय रेलवे सुरक्षा बल का एक कांस्टेबल फरिश्ता बनकर आया था और महिला यात्री की जान बचा ली थी। कांस्टेबल ने तत्काल ही फुर्ती दिखाते हुए महिला यात्री को चलती ट्रेन और प्लेटफॉर्म के बीच जाने से बचा लिया था।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.