website counter widget

दलित युवक को बेरहमी से पीटा-पीटकर पेशाब पिलाई

0

चंडीगढ़: पंजाब (Punjab) के संगरूर (Sangrur) जिले से मानवता को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है। जिसमे एक दलित युवक को पीट पीटकर पेशाब पिलाने का मामला सामने आया है। दलित युवक को इतना पीटा गया की बाद में इलाज के दौरान उसके मौत हो गई। संगरूर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) संदीप गर्ग ने घटना के बारे में बताया कि ‘उसने (पीड़ित) स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (PGIMS) में दम तोड़ दिया.’ बताया जा रहा है कि घायल व्यक्ति का इलाज कर रहे डॉक्टरों को उसके पैरों को काटना पड़ा था. गर्ग ने बताया कि इस मामले में दर्ज प्राथमिकी (FIR) में भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 302 (हत्या) को जोड़ा गया है.

आयोध्या में इस हिन्दू की मदद से बनेगी मस्जिद!

जानकारी के अनुसार चांगलीवाला गांव के रहने वाले 37 वर्षीय दलित व्यक्ति का बीते 21 अक्टूबर को रिंकू नाम के व्यक्ति और उसके कुछ अन्य साथियों से विवाद हो गया था, लेकिन तब ग्रामीणों के हस्तक्षेप से यह मामला शांत हो गया था. पुलिस को बताया कि दबंगों ने मृतक के खिलाफ अपने मन में दुश्मनी पाल ली. उन्होंने घटना वाले दिन सात नवंबर को उसे अपने घर बुलाया. यहां चार लोगों ने उसे पकड़ लिया और खंभे से बांधकर जमकर पीटा. पीड़ित ने जब उनसे पीने लिए पानी मांगा, तो उसे पेशाब पीने के लिए मजबूर किया गया.

तलवार लेकर मंच पर नाची स्मृति ईरानी, Viral video

पुलिस ने बताया कि चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और उनके खिलाफ अपहरण, गलत तरीके से बंदी बनाने और भादंसं की विभिन्न धाराओं, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम (Scheduled Tribes Act) के तहत संगरूर के लेहरा पुलिस स्टेशन में मामला किया गया है. पंजाब राज्य अनुसूचित जाति आयोग(Punjab State Scheduled Castes Commission) ने पूरे प्रकरण को लेकर संगरूर के एसएसपी से रिपोर्ट मांगी है. अनुसूचित जाति आयोग की अध्यक्ष तेजिंदर कौर (Tejinder Kaur, Chairperson of the Scheduled Castes Commission) ने कहा कि मीडिया रिपोर्टों के माध्यम से इस घटना की जानकारी मिलने के बाद आयोग ने इस मामले में स्वत: संज्ञान लिया और रिपोर्ट मांगी है.

कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर सैलरी को लेकर सरकार ने उठाया ये कदम!

-Mradul tripathi

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.