महिला अफसर की वीडियो कॉन्फ्रेंस में चली पोर्न फिल्म

0

राजस्थान में एक सरकारी बैठक में शामिल हुए कर्मचारियों को उस वक़्त शर्मसार होना पड़ा जब इस वीडियो कॉंन्फ्रेंस में अश्लील क्लिप चल गई। दरअसल जयपुर सचिवालय में खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग की बैठक आयोजित की गई थी। इस वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान स्क्रीन पर अचानक पोर्न वीडियो (Porn Clip Play During Video Conference ) चल जाने से हड़कंप मच गया। इस बैठक की अध्यक्षता विभाग की शासन सचिव वरिष्ठ महिला अधिकारी मुग्धा सिन्हा द्वारा की गई थी।

Video : ATM में लड़की को शख्स ने दिखाया प्राइवेट पार्ट

गौरतलब है कि सोमवार 3 जून को जयपुर सचिवालय में एनआईसी के कमरे में खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग की तरफ से एक वीडियो कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया था। विभाग की शासन सचिव मुग्धा सिन्हा ( IAS Officer Mugdha Sinha) की अगुवाई में इस वीडियो कॉन्फ्रेंस की शुरुआत की गई। तभी इस कॉन्फ्रेंस के बीच स्क्रीन पर एक पोर्न क्लिप (Porn Clip Play During Video Conference ) चलने लगी। इस मामले में मुग्धा सिन्हा ने कहा, “मैंने तुरंत एनआईसी निदेशक को बुलाकर उन्हें मामले की जांच करने के निर्देश दिए हैं और इस संबंध में एक रिपोर्ट पेश करने को कहा है।”

Bandipora Rape Case : नाबालिग से रेप के बाद विरोध, धरना और पुलिस से झड़प

मुग्धा सिन्हा ने अपनी जानकारी में कहा कि कॉन्फ्रेंस के दौरान विभाग और एनआईसी के प्रतिनिधियों समेत तकरीबन 10 लोग सचिवालय के कमरे में मौजूद थे। 33 जिलों के आपूर्ति अधिकारियों के साथ चर्चा करने के लिए इस वीडियो कॉन्फ्रेंस (Porn Clip Play During Video Conference )https://www.talentedindia.co.in/latest-news/state-news/mumbai-girl-sexual-harassment-in-atm-room-during-withdraw-money का आयोजन किया गया था। राज्य में चल रही विभिन्न योजनाओं और कार्यक्रमों की समीक्षा के लिए बैठक रखी गई थी। इस बैठक का समय सुबह 11 बजे से लेकर दोपहर 1 बजे तक का था। इस दौरान दोपहर 12 बजे के बाद यह घटना हुई।

VIDEO : सरेआम गुंडों ने लड़की को पीटा और फिर…

बैठक के दौरान हुई इस घटना से पूरे सचिवालय के साथ सभी जिलाें के अफसर हक्के-बक्के रह गए। हालांकि यह घटना कुछ ही पल की थी लेकिन इतने ही अल्प समय में सभी लोग स्तब्ध रह गए। तत्काल ही तकनीकी कर्मी की सहायता से इस आपत्तिजनक वीडियो को बंद कराया गया। मुग्धा ने कहा कि एनआईसी के निदेशक की जांच रिपोर्ट के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। इस मामले में दोषियों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Share.