website counter widget

इंदौर-अहमदाबाद हाइवे पर क्यो रोज़ हो रहे हादसें ?

0

वैसे तो देशभर में रोजाना ही सड़क हादसे होते हैं जिनमें कई लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ती है। फिलहाल अहमदाबाद नेशनल हाइवे (Ahmedabad National Highway) लोगों के लिए मुसीबत का सबब बन चुका है। दरअसल अहमदाबाद नेशनल हाइवे (Ahmedabad National Highway) पर गड्ढों और अधूरे निर्माण कार्य ने इस पर से गुजरने वाले मुसाफिरों को काफी परेशानी में डाल दिया है। जो हाइवे यात्रियों की सुविधा और सुगम आवागमन के लिए बनाए जाते हैं उन पर यदि गड्ढें हो जाएं यह मुसाफिरों के लिए जानलेवा साबित हो जाते हैं। अहमदाबाद नेशनल हाइवे (Ahmedabad National Highway) पर हुए इन गड्ढों और निर्माण कार्य के चलते यहां अक्सर ही लंबा जाम देखने को मिलता है। कई बार इस वजह से हादसे भी जाते हैं। लेकिन हाइवे (National Highway Accident) पर निमार्ण कार्य करने वाली कंपनी इन सबको नजरअंदाज करते हुए लोगों से टोल वसूल रही है।

वायु प्रदूषण पर गंभीर- मैं जलेबी खाना छोड़ दूंगा…

गौरतलब है कि इंदौर-अहमदाबाद हाइवे (Indore-Ahmedabad Highway) का निर्माण कार्य आईवीआरसीएल (IVRCL) कंपनी द्वारा साल 2011 में शुरू किया गया था। कंपनी द्वारा यह निर्माण कार्य साल 2013 में पूरा होना था, लेकिन यह कार्य अभी तक पूरा नहीं हो सका है। कार्य पूरा न हो पाने की वजह फंड की कमी बताई जा रही है। झाबुआ (Jhabua) के मछलिया घाट में इंदौर-अहमदाबाद हाइवे (Indore-Ahmedabad Highway) का निर्माण कार्य अधूरा रहने और इस पर गड्ढे होने की वजह से हमेशा दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। वहीं लोगों ने हाइवे का निर्माण कार्य कर रही कंपनी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि कंपनी द्वारा लोगों से लगातार टोल वसूला जा रहा है लेकिन निर्माण कार्य नहीं किया जा रहा।

Video : देखिए, पुलिस ने किस बेरहमी से पीटा इस देश के अन्नदाता को

राहगीरों और स्थानीय लोगों की शिकायत पर पुलिस ने भी यह माना कि इंदौर-अहमदाबाद हाइवे (Indore-Ahmedabad Highway) का निर्माण कार्य अधूरा रहने और इस पर गड्ढे होने की वजह से हादसों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। इतना ही नहीं यहां अक्सर ही जाम की स्थिति रहती है। इसी वजह से पुलिस ने यहां अस्थायी यातायात चौकी स्थापित करने का निर्णय लिया है। इतना ही नहीं पुलिस निर्माण कार्य करने वाली कंपनी से भी लगातार पत्राचार कर रही है और जल्द से जल्द निर्माण कार्य पूरा किए जाने के लिए कंपनी पर दबाव बना रही है। गौरतलब है कि यह हाइवे कुल 375 किलोमीटर लंबा है, जिसका 220 किलोमीटर गुजरात (Gujarat) और बाकी 155 किलोमीटर का हिस्सा मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में है।

निर्दोषों को बलात्कारी बनाते थे वर्दीवाले, साजिश में पूरी चौकी शामिल

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.