मेरठ : पोलियो टीम से NRC-NPR डाटा कलेक्शन के शक में मारपीट

0

देश भर में नागरिकता संशोधन कानून (CAA protest) का जमकर विरोध किया जा रहा है। राजधानी दिल्ली (Capital Delhi) के शाहीन बाग़ (Shaheen Bagh Delhi) में लगातार चल रहे विरोध के बाद अब मुंबई में भी इसका विरोध (CAA protest) शुरू हो गया है। (NRC NPR Data Collection) वहीं अब उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले से पोलियो की दवा पिलाने वाली टीम के साथ मारपीट की घटना सामने आयी है। दरअसल पल्स पोलियो अभियान (Pulse Polio Campaign) के तहत पोलियो की दवा पिलाने पहुंची टीम के साथ लोगों ने मारपीट की। मिली जानकारी के अनुसार लोगों ने टीम को NPR और NRC का डाटा तैयार करने वाली टीम समझ लिया। उन्होंने शक के आधार पर इस टीम के लोगों को बंधक बना लिया और उनके साथ मारपीट भी की। महिला कर्मियों के साथ भी लोगों ने अभद्रता की। फिलहाल इस पूरे मामले में महिला स्टाफ की तरफ से थाने में FIR दर्ज कराई गई है।

मोदी सरकार NRC, CAA के बाद लेकर आई NPR, अब भारत का हर एक नागरिक गिना जाएगा

मिली जानकारी के अनुसार मामला लिसाड़ीगेट थाना क्षेत्र के लक्खीपुरा का बताया जा रहा है (NRC NPR Data Collection)  जहां शुक्रवार को पल्स पोलियो अभियान की टीम बच्चों को दवा पिलाने गई थी। इस मामले में पुलिस इंस्पेक्टर कपिल प्रशांत का कहना है कि पोलियो अभियान की टीम में दीपक पुत्र रामचंद्र वर्मा निवासी शताब्दीनगर और एक महिला स्टाफ के साथ लोगों ने बदसलूकी और मारपीट की है। फिलहाल मामले में तहरीर ली गई है और विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस के अनुसार मारपीट के आरोपी में एक नाम आस मोहम्मद सामने आया है। पुलिस बाकी सभी आरोपियों की तलाश कर रही है।

CAA-NRC बंगाल में नहीं लागू करूंगी,चाहे तो सरकार बर्खास्त कर दें

(NRC NPR Data Collection)  गौरतलब है कि देश भर में CAA का विरोध किया जा रहा है जिसका खामियाजा पाल्स पोलियो अभियान की टीम को भुगतना पड़ा। लोगों ने डाटा एकत्र करने के शक  में टीम के सदस्यों के साथ मारपीट की। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाने की बात कही जा रही है।

NRC को नही मान रहे BJP के नेता

Share.