मुन्ना बजरंगी : जेल के अंदर यूं पहुंचा हथियार…  

0

उत्तरप्रदेश की बागपत जेल में कुख्यात डॉन मुन्ना बजरंगी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी| अब इस मामले में पुलिस लगातार खुलासे कर रही है| बजरंगी की हत्या के आरोपी  सुनील राठी ने पहले दिन ही अपना जुर्म कबूल लिया था, लेकिन इसके बाद जेल प्रशासन पर सवाल उठाए जाने लगे थे कि आरोपी के पास गन कैसे पहुंची| क्या जेल में बंद और आरोपियों के पास भी गन हो सकती है? जेल प्रशासन क्या लापरवाही बरत रहा है? मुन्ना बजरंगी और सुनील राठी में क्या कनेक्शन था? पुलिस इन सब सवालों के जवाबों को तलाशने में जुटी हुई है| इनमें से कई सवालों के जवाब मिल भी चुके हैं|

जब पुलिस ने सुनील राठी से पूछा कि उसने मुन्ना बजरंगी की हत्या क्यों की तो उसने एक अजीबोगरीब बयान दिया| जेल में बंद अन्य कैदियों ने बताया कि हत्या के तुरंत बाद आरोपी राठी नहाने चला गया था ताकि उसके शरीर पर लगा खून मिल जाए और कोई साबुत न बचे| उसने अपने कपड़े भी धुलवा दिए थे ताकि फॉरेंसिक रिपोर्ट में साक्ष्य सामने न आ सके|

दरअसल, जेल में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे होने के कारण आरोपी ने बड़े आराम से पिस्टल जेल में मंगवाई और हत्या को अंजाम दिया| जांच के बाद यह कहा जा रहा है कि टिफिन में बंद करके पिस्टल को जेल के अंदर पहुंचाया गया था| पहचान बचाने के लिए पिस्टल और मैगजीन को अलग-अलग हिस्सों में बांटकर लाया गया था| मुन्ना बजरंगी की हत्या के कुछ दिन पहले ही पिस्टल जेल में पहुंचाई गई थी, इसका मतलब है कि राठी ने पहले ही तय कर लिया था कि वह बजरंगी की हत्या करेगा क्योंकि हत्या के एक दिन पहले ही बजरंगी को झांसी जेल से बागपत जेल शिफ्ट किया गया था| गौरतलब है कि अब सरकारी अफसरों द्वारा कहा जा रहा है 31 अगस्त से पहले जेल में सीसीटीवी लगा दिए जाएंगे| फिलहाल जांच अधिकारी अन्य सवालों के जवाबों की तलाश में जुटे हुए हैं|

Share.