कर्नाटक में मंत्री ने की मांग

0

भारत में नेता अपने काम से ज्यादा अपनी लक्ज़री पसंद जीवनशैली के लिए चर्चा में रहते हैं| खुद को जनता का सेवक कहने वाले हमारे नेताओं को जनता की जरूरतें छोड़कर सब कुछ याद रहता है| नेताओं की आरामपसंदी का एक ऐसा ही वाकया कर्नाटक में सामने आया है|

कर्नाटक के खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री बीजे जमीर अहमद खान ने सरकार से इनोवा की जगह फॉर्च्यूनर मांगी है| उनका कहना है कि वे बचपन से लग्जरी कारों में घूमे हैं, ऐसे में इनोवा उनके लिए आरामदायक नहीं रहेगी| साथ ही इनोवा से चलने की वजह से लोग समझ ही नहीं पाएंगे कि वे मंत्री हैं|

अहमद खान राज्य के बड़े कारोबारी परिवार से हैं| उनसे पूछा गया कि वे मुख्यमंत्री कुमारस्वामी की तरह अपनी निजी कार से क्यों नहीं चलते? इस पर उन्होंने कहा, “मैं सरकारी वाहन इसलिए चाहता हूं ताकि लोगों को पता चले कि मैं मंत्री हूं| छोटी कार से लोगों के बीच गया तो लोग मुझे पहचानेंगे ही नहीं|”

कांग्रेस ने किया जमीर का बचाव

कांग्रेस के एक नेता ने अहमद खान का बचाव भी किया| कांग्रेस से राज्यसभा सांसद नासिर हुसैन ने कहा कि एक मंत्री अपनी पसंद की कार मांगता है तो इसमें कुछ गलत नहीं है| मीडिया गैरजरूरी मुद्दों को उठा रहा है| वहीं, भाजपा प्रवक्ता एसपी प्रकाश ने कहा कि खान के पास 100 से ज्यादा लग्जरी बसें हैं| खान को अपना आरामतलब रवैया छोड़कर जनता के बारे में सोचना चाहिए|

Share.