website counter widget

योगी सरकार ने कमलेश के परिवार को दी बड़ी राहत

0

लखनऊ: सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने कमलेश तिवारी की पत्नी को 15 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है. इसी के साथ योगी सरकार ने परिजनों को सीतापुर में एक आवास देने का वचन दिया हैं., योगी सरकार ने कमलेश तिवारी हत्याकांड के मामले की फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई करवाने के भी आदेश जारी किए हैं ( Kamlesh Tiwari Murder Case). जानकारी के अनुसार कमलेश तिवारी हत्याकांड के मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलासा किया है कि मृतक को पहले गोली मारी गई और उसके बाद धारदार हथियार से सीने पर 7 बार वार किए गए थे।

दिनदहाड़े गोली मारकर साढ़े चार लाख कि लूट

वहीं, कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) हत्याकांड के मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद मामले में एक और बड़ा खुलासा हुआ है. बताया जा रहा है कि हत्यारोपी अशफाक और मोईनुद्दीन का प्लान कमलेश तिवारी को 20 अक्टूबर को किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में मारने का था (Kamlesh Tiwari Murder Case). सूत्रों की मानें तो, 20 अक्टूबर को हिंदू समाज पार्टी का एक सार्वजनिक कार्यक्रम होना था. इसी कार्यक्रम में कमलेश तिवारी की हत्या करने का प्लान बनाया गया था. सूत्रों का कहना है कि आखिरी समय मे हिंदू समाज पार्टी के सार्वजनिक कार्यक्रम के निरस्त होने के चलते प्लानिंग में बदलाव किया गया था.

दिवाली पर केवल 2 घंटे ही फोड़ सकते हैं पटाखे, जानिए टाइमिंग

जानकारी के अनुसार, कार्यक्रम में बदलाव के चलते कमलेश तिवारी हत्याकांड को दो दिन पहले 18 अक्टूबर को अंजाम दिया गया. बताया जा रहा है कि हत्यारोपियों ने कमलेश तिवारी को सार्वजनिक कार्यक्रम में मारने की प्लानिंग इसलिए की थी कि समाज में एक बड़ा मैसेज जाए. बता दें कि अशफाक एक कम्पनी में मेडिकल रिप्रेजेन्टेटिव का काम करता था. वहीं, मोइनुद्दीन डिलीवरी ब्वॉय था. अभी तक की विवेचना में राशिद पठान द्वारा फंडिंग की बात सामने आई है. हालांकि, अभी पूछताछ जारी है.

दुकानदार ने पॉलिथीन में सामान नहीं दिया तो पीटकर मार डाला

-Mradul tripathi

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.