जयपुर नगर निगम बना अखाड़ा

0

लंबे समय बाद हो रही नगर निगम की साधारण सभा हंगामे की भेंट चढ़ गई। बैठक शुरू होने से पहले ही कांग्रेस के पार्षदों ने निगम के बाहर जमकर हंगामा किया। पुलिस और कांग्रेसी पार्षदों में जमकर धक्कामुक्की भी हुई। इस दौरान कई पार्षदों के कपड़े भी फट गए।

बैठक शुरू होने वाली ही थी, इसी बीच कांग्रेस पार्षद सभा के अंदर उपनेता प्रतिपक्ष धर्मसिंह सिंघानिया के साथ पहुंचे थे, लेकिन जैसे ही पार्षद सभा के अंदर जाने लगे, पुलिस ने बाहर ही रोक दिया। इसके बाद पुलिस और कांग्रेस पार्षद के बीच काफी बहसबाजी हुई। देखते ही देखते बहसबाजी ने धक्का-मुक्की का रूप ले लिया। इस दौरान पार्षदों के कपड़े भी फट गए।

दरअसल, पिछली बैठक भी पार्षदों के हंगामे की वजह से रद्द हुई थी। इसके बाद महापौर अशोक लाहोटी ने उपनेता प्रतिपक्ष धर्मसिंह सिंघानिया को तीन बैठकों के लिए निलम्बित कर दिया था। ऐसे में धर्मसिंह जब अंदर जाने लगे तो उनके साथ जा रहे सभी पार्षदों को पुलिस ने बाहर रोक दिया।

इस दौरान महिला पार्षदों ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि महापौर के कहने पर उनके दुपट्टे पुलिस ने खींचे और उनके साथ बदतमीजी की गई।

Share.