छापे में 90 किलो सोना व 100 करोड़ बरामद

0

आयकर विभाग ने सोमवार को चेन्नई में एक छापा मारा, जिसमें 90 किलो सोना और 100 करोड़ रुपए की बड़ी रकम बरामद की गई| विभाग ने यह छापा चेन्‍नई में सड़क ठेकेदार नागराजन सेय्यदुरई की कंपनी ‘एसकेजी ग्रुप’ के दफ्तरों पर मारा| आयकर विभाग ने सोमवार सुबह साढ़े छह बजे एक ऑपरेशन शुरू किया, जिसका नाम ‘ऑपरेशन पार्किंग मनी’ रखा गया| इस ऑपरेशन के तहत तमिलनाडु में 22 अलग-अलग जगहों पर छापा मारा गया| मुख्‍यमंत्री ई पलानीस्‍वामी सहित अन्‍नाद्रमुक के कई नेताओं से ठेकेदार नागराजन के करीबी संबंध हैं|

इस छापामारी से जुड़े एक अधिकारी ने बताया, “करीब 100 करोड़ का कैश बरामद हुआ है, जिसका संभवतः कोई रिकॉर्ड नहीं है| रेड अभी भी जारी है| कैश ट्रैवल बैग में भरकर पार्किंग में रखी कारों में रखे गए थे|”  अधिकारियों ने बताया कि कुल 22 ठिकानों पर छापे मारे गए हैं| इनमें से 17 चेन्नई, 4 अरुप्पुकोट्टई और एक वेल्लोर के कटपडी में है| आज भी आयकर विभाग का यह ऑपरेशन जारी रहने की संभावना है|

हाईवे और छोटे बंदरगाहों से जुड़ा मंत्रालय मुख्‍यमंत्री पलानीस्‍वामी के पास ही है| खबरों के अनुसार, अधिकारी जब्‍त की गई नकदी, सोने के बिस्‍कुटों और दस्तावेजों की जानकारी जुटा रहे हैं| विपक्षी पार्टी द्रमुक ने आरोप लगाया था कि नागराजन के पास मुख्‍यमंत्री की बेनामी संपत्ति थी और पक्षपात करते हुए मुख्यमंत्री के रिश्‍तेदारों को सरकारी ठेके दिए गए हैं|

ठेकेदार नागराजन सेय्यदुरई की चेन्‍नई और मदुरई में कई कंस्‍ट्रक्‍शन कंपनियां हैं| वर्तमान में उसकी कंपनी मदुरई से तिरुमंगलम के बीच फोरलेन सड़क बना रही है|

Share.