website counter widget

कराची से आए दूल्हे का छलका दर्द, कहा भारत में रहना चाहते हैं

0

जब से भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाई है तब से पाकिस्तान अपना आप खो बैठा है। पाकिस्तान पूरी तरह से बौखला गया है। धारा 370 को लेकर पाकिस्तान UN के दरवाजे भी खटखटा चुका है। लेकिन UN से भी मुंह की खाने के बाद पाकिस्तान की बौखलाहट और भी बढ़ गई है। अब पाकिस्तान भारत के खिलाफ युद्ध की धमकी और जिहाद की धमकी देने पर आमादा हो गया है। पाकिस्तान लगातार ही भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिशें कर रहा है। पाकिस्तान में रहने वाले हिन्दुओं पर भी लगातार अत्याचार बढ़ता जा रहा है। इसकी कहानी पाकिस्तान के कराची से गुजरात आए कुछ दूल्हों ने बयां की है।

कराची से आए एक दूल्हे अनिल माहेश्वरी ने बताया कि विभाजन के दौरान जो हिन्दू पाकिस्तान में रह गए थे वे अब अपने वतन हिन्दुस्तान लौटना चाहते हैं। पाकिस्तान में हिन्दुओं की स्थिति काफी दयनीय है। उन्होंने कहा कि वहां हिन्दुओं का रहना बेहद ही कठिन हो गया है और उन्हें आये दिन परेशान किया जाता है। उन्होंने कहा कि वहां पैसे कमाना तो आसान है लेकिन चैन से रहना किसी जंग से कम नहीं है।

गौरतलब है कि पाकिस्तान के कराची शहर से दो हिन्दू जोड़े भारत के गुजरात आए थे। गुजरात के राजकोट में शनिवार को उनकी शादी हुई थी। राजकोट की माहेश्वरी समाज ने कराची से आए दोनों दूल्हों की शादी करवाई। दोनों युगल माहेश्वरी समाज के ही हैं। इस अवसर पर माहेश्वरी समाज के युवा अध्यक्ष भवेश माहेश्वरी ने बताया कि उन्होंने अब तक 90 से भी ज्यादा पाकिस्तानी जोड़ों की शादी करवाई है और उन्हें भारत में बसने के लिए सहायता की है। उन्होंने बताया कि जिन जोड़ों की उन्होंने अब तक शादियां करवाई हैं उनमे सबसे ज्यादा जोड़े कराची के थे। भावेश ने कहा, “हाल ही में जिन युगलों ने शादी रचाई, उनकी योजना भारत में ठहरने की है। पाकिस्तानी हिंदूओं का कहना है कि वे वीजा बढ़वाकर यहीं (भारत में) रहना चाहते हैं।”

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.