X
website counter widget

election

गोवा में सीएम से लेकर मंत्री तक सब बीमार

0

74 views

प्रदेश सरकार का काम राज्य को सुचारू रूप से संभालना होता है, लेकिन जब किसी प्रदेश में मुख्यमंत्री से लेकर विधायक तक सभी बीमार हो जाएं तो स्थिति क्या बनती है, यह जानना रोचक है| इन दिनों गोवा की सरकार में कुछ ऐसा ही बीमारी भरा माहौल चल रहा है|

गोवा की मनोहर पर्रिकर सरकार में इन दिनों मुख्यमंत्री से लेकर विधायक तक हर कोई बीमारी से परेशान हैं| इन बीमारियों के कारण राज्य में पूरी सरकार ब्यूरोक्रेट्स चला रहे हैं| मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर खुद लगातार पैंक्रियाज में इन्फेक्शन से परेशान हैं और अब तक दो बार अमरीका जाकर इलाज करवा चुके हैं| तीसरी बार अब वे फिर से 15 अगस्त के बाद दस दिन के लिए अमरीका जाएंगे|

पिछली बार जब मनोहर पर्रिकर अमरीका में थे तो पूरा अधिकार मुख्य सचिव और एक कमेटी को दिया गया था| वे पर्रिकर को मेल पर जानकारी देते थे| अब भी पर्रिकर ज्यादातर समय घर से ही काम करते हैं| उधर, उनके वरिष्ठ ऊर्जा और समाज कल्याण मंत्री पांडुरंग मडकैकर को अब ब्रेन स्ट्रोक के कारण मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती किया गया है| उनका ऑपरेशन हो गया है, लेकिन उनको पूरी तरह ठीक होने में कम से कम महीनेभर का समय लगेगा|

लोनिवि मंत्री सुधीन धवलीकर को भी ब्रेन स्ट्रोक हुआ है| उनको ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है| धवलीकर को भी एक महीने आराम पर रहना होगा|इतना ही नही मापसा के विधायक फ्रांसिस डिसूजा और वास्को के बीजेपी विधायक कार्लोस अल्मेडा भी बीमार हैं और उनको आराम करने की सलाह दी गई है|

ऐसे में अब सवाल उठने लगा है कि गोवा में इस बार विधानसभा का मानसून सत्र  होगा भी या नहीं| भाजपा के पास खुद के 15 विधायक है जबकि तीन विधायक गोवा विकास पार्टी के और तीन निर्दलीय विधायक सरकार के साथ हैं जबकि कांग्रेस के पास 18 विधायक हैं| जाहिर है थोड़ी सी भी गड़बड़ी सरकार को भी हिला सकती है| फिलहाल तो हर कोई मुख्यमंत्री से लेकर मंत्रियों और विधायकों के जल्दी ठीक होने की कामना कर रहा है|

Share.
14