दुष्कर्म पीड़िता की पहचान उजागर करने पर..

0

दुष्कर्म पीड़िता की पहचान उजागर करने के मामले में छह राजद नेताओं पर केस दर्ज किया गया है| ये सभी नेता दुष्कर्म पीड़िता मां-बेटी से शुक्रवार को मिलने पहुंचे और उनसे बार-बार आपबीती बताने के लिए कह रहे थे|

मामला बिहार के गया का है, यहां एक शख्स के सामने ही उसकी पत्नी और बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया| घटना की जानकारी मिलने के बाद राजद के कार्यकर्ता और नेता पीड़ितों से मिलने पहुंचे| इस दौरान कार्यकर्ताओं की भीड़ नीतीश सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रही थी और नेता सवाल पूछ रहे थे|

नेताओं का रवैया देखकर पीड़िता रोने लगी और इसी बीच उसके चेहरे से दुपट्टा भी हट गया| उसने कहा, मैं बार-बार एक ही बात सबको कैसे बताऊं? मुझे कुछ नहीं कहना? आप लोग समझते नहीं है? मैं घर जाना चाहती हूं| एक ही बात कितनी बार बोलूं? इसके बाद दुष्कर्म पीड़िता की पहचान उजागर करने और उसे आपबीती बताने को मजबूर करने पर छह राजद नेताओं पर केस दर्ज हुआ है| इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों की गिरफ्तारी की है| पीड़िता एवं उनके परिवार का कहना है कि आरोपियों को फांसी पर लटका देना चाहिए|

Share.