कोर्ट का फैसला सुन पति हुआ मायूस

0

पति-पत्नी में अक्सर कहासुनी हो जाती है| कई बार मामूली सी बात भी बड़ा रूप लेकर कोर्ट तक पहुंचकर तलाक़ का आधार बन जाती है| ऐसे ही पति और पत्नी के बीच दाढ़ी को लेकर विवाद बढ़ा और यह मामला कोर्ट पहुंच गया| कोर्ट में जज ने कुछ ऐसा फैसला सुनाया, जिससे पति मायूस हो गया|

मामला गुजरात के अहमदाबाद का है| यहां पर पति और पत्नी दाढ़ी पर बवाल के बाद कोर्ट पहुंचे थे, जहां कोर्ट ने याचिका ख़ारिज कर दी| दरअसल, बवाल पति की दाढ़ी पर नहीं बल्कि पत्नी की दाढ़ी पर हुआ था| जी हां, एक महिला के पति ने कोर्ट में याचिका दायर की कि उसकी पत्नी की दाढ़ी है और उसकी आवाज़ भी मर्दों जैसी है| उसने यह भी दावा किया कि शादी से पहले उसके साथ धोखा किया गया| उसे यह जानकारी नहीं दी गई कि महिला के चेहरे पर बाल हैं| जब वह महिला को शादी से पहले देखने गया था तो उसने बुरका पहन रखा था और उसने उसका चेहरा नहीं देखा था क्योंकि यह परंपरा के खिलाफ होता है|

इस मामले में पत्नी ने कहा कि हॉरमोन संबंधी कारणों से उसके चेहरे पर कुछ बाल हैं और उन्हें उपचार के जरिये हटाया जा सकता है| इसके बाद जज ने अपील खारिज करते हुए अपनी टिप्पणी में कहा कि ऐसी वजहों से तलाक नहीं दिया जा सकता है|

Share.