रमन सिंह खतरे में

0

इस बार के विधानसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ राज्य में जीत हासिल करने वाली कांग्रेस, अब आगामी लोकसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के ‘गढ़’ को जीतने की फिराक में हैं। राज्य में आगामी चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दलों की तैयारियां शुरू हो चुकी है। राज्य की राजनांदगांव सीट के लिए दोनों ही दलों में दावेदारों की लंबी कतार लगी हुई है। इस सीट के लिए कई उम्मीदवार अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं।

गौरतलब है कि राजनांदगांव लोक सभा क्षेत्र में राजनांदगांव और कवर्धा जिले आते है। राजनांदगांव में 6 विधानसभा सीटें हैं जबकि कवर्धा में 2 विधानसभा सीटे है। राजनांदगांव की सीट हाईप्रोफाइल मानी जाती है, क्योकिं यह पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह का विधानसभा क्षेत्र है। मौजूदा समय में डॉ. रमन सिंह के बेटे अभिषेक सिंह इस सीट से सांसद हैं। अभिषेक सिंह से पहले इस सीट से भाजपा के मधुसुदन यादव सांसद थे। इस सीट से कांग्रेस कांग्रेस के करूणा शुक्ला और पुर्व विधायक स्वर्गीय उदय मुदलयार के बेटे जितेंद्र मुदलियार तेजी से अपनी दावेदारी पेश कर रहे है।

हालांकि कांग्रेस नेताओं का कहना है कि आलाकमान ही इस सीट से उम्मीदवार तय करेगी। नेताओं का कहना है कि, पार्टी जिसे भी चाहे उसे लोकसभा टिकट दे सकती है। इसके बाद उनका कहना है कि, पार्टी जिस किसी को भी लोकसभा का टिकट देगी उसी उम्मीदवार को जिताने के लिए पार्टी कार्यकर्ता व नेता प्रयास करेंगे और उसी के लिए काम करेंगे। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव जितेंद्र मुदलिया ने कहा कि, आलाकमान का फैसला सर्वमान्य होगा और पार्टी को जिताना ही हमारा एक मात्र लक्ष्य होगा। इतना ही नहीं कांग्रेस के नेता प्रदेश की 11 लोगसभा सीटे जीतने का दावा भी कर रहे हैं।

(प्रभात)

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News
Share.