कैबिनेट मंत्री ने किया सिद्धू की सजा का समर्थन

0

पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री नवजोत सिद्धू बड़ी मुश्किल में फंस गए हैं| पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में अपने ही कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ रोड रेज और गैर इरादतन हत्या के मामले में हाईकोर्ट की तीन वर्ष की सजा बरकरार रखने का समर्थन किया है| इस वजह से पंजाब सियासत में हड़कंप मच गया है|

यह मामला 30 वर्ष पुराना रोडरेज का है, जिसमें सिद्धू को निचली अदालत ने तो आरोपमुक्त कर दिया था, लेकिन हाईकोर्ट ने फैसले को पलटते हुए सिद्धू को गैर इरादतन हत्या का दोषी पाया और तीन वर्ष कैद की सजा सुना दी थी| सिद्धू ने फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी| सिद्धू पर 27 दिसंबर, 1988 को पटियाला में सड़क पर 65 वर्षीय गुरनाम सिंह से तू-तू-मैं-मैं के बाद मुक्का मारने से गुरनाम की मौत का आरोप है। फिलहाल उनकी सजा पर रोक है और केस की सुनवाई जारी है।

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में कहा कि 30 वर्ष पुराने रोड रेज मामले में पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट द्वारा नवजोत सिंह सिद्धू को दोषी ठहराए जाने का फैसला सही है| सिद्धू अभी पंजाब सरकार में पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री हैं| सरकार के कोर्ट में दिए इस बयान ने सिद्धू की परेशानी बढ़ा दी है|

Share.